BREAKING NEWS

मंडल मुख्यलय पौड़ी में तिल तिल मरने को मजबूर गरीब – अस्पतालों में नही डॉक्टर्स

26

पौड़ी जनपद के सरकारी अस्पताल भारी डॉक्टर्स की कमी अब जनता की परेशानिया बढ़ा रही हैं दूरस्थ क्षेत्रो में पटरी से उतर चुकी स्वास्थ व्यवस्थाओ का खामियाजा उठा रहे ग्रामणो को मुख्यालय पहुंचने पर भी डॉक्टर्स कमी के चलते बेहतर इलाज नही मिल पा रहा है ऐसे में बदहाल स्वास्थ व्यवस्थाओ की तरफ सरकार का ध्यान आकर्षित करने के लिए अब जनता प्रदर्शन को मजबूर हो गई है ।

दीप एस बिष्ट पौड़ी

जनपद में 365 पदों के सापेक्ष करीब 176 डॉक्टर्स ही जनपद पौड़ी में अपनी सेवाएं दे रहे हैं ऐसे में डॉक्टर्स की ये कमी जनता पर भारी पड़ रही है जिला अस्पताल पौड़ी जहाँ डॉक्टर्स शॉर्टेज के चलते महज रेफर सेण्टर बनकर रह गया है तो वहीँ यही हाल अब श्रीनगर बेस असप्तला के भी हो चुके हैं जिस पर श्रीनगर की जनता स्वास्थ व्यवस्थाओ की सुधारने के लिए प्रदर्शन कर रही है ।

जनता की माने तो राज्य बनने के बाद स्वास्थ व्यवस्थाये हर साल बद से बदत्तर हो रही है जिसकी तरफ सरकार का कोई ध्यान नही पौड़ी चमोली और रुद्रप्रयाग की जनता के लिए श्रीनगर बेस अस्पताल ही एक मात्र सहारा सम्भव इलाज के लिए हुवा करता था लेकिन पहाड़ में डॉक्टर्स के टिकने और इनका स्थानांतरण होने से स्वास्थ व्यवस्थाये लचर स्थिति में हैं ।

प्रदर्शनकारियो ने बताया की हर बार आंदोलन की राह पकड़ना उनके लिए मजबूरी हो चुकी हैं वहीँ लडखडाती स्वास्थ व्यवस्थाओ में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया की डीजी हेल्थ के माध्यम से वे सरकार को इन समस्याओ से अवगत करवा चुके हैं जिस पर बांड पर भी डॉक्टर्स की पूर्ति की जा रही हैं स्थानीय जनता की माने तो रेफर सेंटर बन चुके इन अस्पतालो के हालत तभी सुधर सकते हैं जब मैदानो का मोह छोड डॉक्टर्स पहाड़ो पर अपनी सेवा देने को तैयार होंगे।





error: Content is protected !!