BREAKING NEWS

कोविड-19- उत्तराखंड में किसे है पास की जरूरत? कितने दिन का होगा क्वॉरेंटाइन: मेरु रैबार

1412


देहरादून

लॉक डाउन के कई चरण पूरे होने के बाद भी अभी तक आम लोगों में संशय बना हुआ है कि एक जिले से दूसरे जिले में जाने पर पास की जरूरत है या नहीं ? बाहरी जिलों से आने पर पास कैसे बनेगा? इसके अलावा क्वॉरेंटाइन होना पड़ेगा या नहीं? संस्थागत क्वॉरेंटाइन होगाया होम क्वॉरेंटाइन? इन सब सवालों के जवाब देहरादून डीएम डॉ आशीष श्रीवास्तव ने अपनी प्रेस वार्ता के माध्यम से कर दिया है

गिरीश गैरोला

डीएम आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि राज्य में ग्रीन एवं ऑरेंज जनपद में प्रदेश के भीतर आने जाने के लिये पास की जरूरत नही है, परन्तु आवागमन से पूर्व देहरादून स्मार्ट सिटी की वेबसाईट पर रजिस्टेªशन कराना अनिवार्य है। जिलाधिकारी ने बताया कि जो व्यक्ति रेड जोन से भी प्रवेश कर रहे हैं उनको देहरादून स्मार्ट सिटी की वेबसाईट पर पंजीकरण को ही पास मानकर जनपद में प्रवेश करने दिया जायेगा।

 जिलाधिकारी ने बताया कि राज्य सरकार के नये नियमों के अनुसार जो व्यक्ति अन्य कोविड-19 से प्रभावित क्षेत्रों से विभिन्न माध्यमों से जनपद में आ रहे हैं उन्हें 7 दिन संस्थागत क्वारेंटीन तत्पश्चात  14 दिन के लिए  होम क्वारेंटीन किया जायेगा। इसके अतिरिक्त प्रशासन द्वारा संस्थागत क्वारेंटीन फैसिलिटी से पेड क्वारेंटीन में जाने का विकल्प व्यक्ति के पास उपलब्ध रहेगा। ऐसे व्यक्ति जो कोविड-19 संक्रमण से कम प्रभावित क्षेत्रों से जनपद में प्रवेश कर रहे हैं उन्हें 14 दिन का होम क्वारेंटीन किया जायेगा। उन्होंने कहा जिन व्यक्तियों को होम क्वारेंटीन किया गया है उन्हें स्वास्थ्य मंत्रालय भारत सरकार के नियमों के अनुसार 14 दिन के लिए घर में रहना होता हैै तथा किसी से मिलने एवं घर से बाहर सार्वजनिक स्थानों पर जाना प्रतिबन्धित रहता है, यदि कोई नियमों का उल्लंघन करता है तो  सम्बन्धित के विरूद्ध सुसंगत नियमों के अन्तर्गत कार्यवाही की जायेगी। 
   




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!