देहरादून : डिफेंस कालोनी को जाने वाला 100 साल पुराना पुश्तैनी रास्ता बंद – यूकेडी ने सुरू किया धरना

Share Now

यूकेडी के नेतृत्व में डिफेंस कॉलोनी गेट पर धरना प्रदर्शन उत्तराखंड क्रांति दल के नेतृत्व में देहरादून के डिफेंस कॉलोनी गेट पर बद्रीपुर, नवादा आदि के ग्रामीणों ने जमकर धरना प्रदर्शन किया और गेट खोले जाने का विरोध किया।

 गौरतलब है कि बद्रीपुर नवादा एक रास्ता डिफेंस कॉलोनी को जोड़ता है। यह रास्ता पिछले दिनों डिफेंस कॉलोनी हाउसिंग सोसायटी ने बंद कर दिया और इस पर गेट लगा दिया था।

 उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय मीडिया प्रभारी शिव प्रसाद सेमवाल ने बताया कि बद्रीपुर के लोग इस रास्ते का लगभग 100 साल से उपयोग कर रहे हैं और यहां से कई बच्चे और बड़े बुजुर्ग स्कूल और बैंक, पोस्ट ऑफिस आदि के कामों से डिफेंस कॉलोनी जाते हैं। ऐसे में यह रास्ता बंद किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। गौरतलब है कि बद्रीपुर वासियों ने इसकी शिकायत जिलाधिकारी से की है।

हाउसिंग सोसायटी पर रास्ता बंद करने से संबंधित कागज दिखाने को कहा गया है यदि वे कागज नहीं दिखा पाए तो ग्रामीण इस  गेट को को स्वयं तोड़ देंगे।

 इस मामले में जांच के निर्देश दिए गए हैं। स्थानीय वार्ड अध्यक्ष सचिन थापा ने बताया कि गेट खोले जाने तक यहां पर नियमित धरना प्रदर्शन आयोजित किया जाएगा।

 यह एक पुश्तैनी रास्ता है, जिसे बंद नहीं किया जा सकता। लेकिन डिफेंस कॉलोनी सहकारी समिति ने अपनी पहुंच के दम पर यह रास्ता बंद करा दिया है। ग्रामीण इसका भारी विरोध कर रहे हैं।

 केंद्रीय संगठन सचिव जय प्रकाश उपाध्याय ने कहा कि यदि इस रास्ते को नहीं खोला गया तो ग्रामीणों के साथ मिलकर उत्तराखंड क्रांति दल व्यापक जन आंदोलन चलाएगा। उत्तराखंड क्रांति दल के जिला अध्यक्ष दीपक रावत ने कहा कि हाउसिंग सोसायटी पर रास्ता बंद करने से संबंधित कागज दिखाने को कहा गया है यदि वे कागज नहीं दिखा पाए तो ग्रामीण इस  गेट को को स्वयं तोड़ देंगे।

 उत्तराखंड क्रांति दल की महिला मोर्चा उपाध्यक्ष किरन रावत ने महिलाओं को एकजुट होने का आह्वान करते हुए कहा कि बिना महिलाओं की सहयोग की ये लड़ाई नहीं जीती जा सकती।

केंद्रीय युवा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष ने राजेंद्र बिष्ट युवाओं को अधिक से अधिक संख्या में एकजुट होने की अपील की। इस अवसर पर केंद्रीय खेल प्रकोष्ठ के अध्यक्ष वीरद्र रावत ने वर्तमान और पूर्व  विधायकों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि इस ग्रामीण परेशानी में है और जनप्रतिनिधि सिरे से गायब है।

धरना प्रदर्शन के दौरान कई अन्य स्थानीय प्रतिनिधियों ने भी संबोधित किया।धरना प्रदर्शन के दौरान सैकड़ों स्थानीय निवासी शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!