प्रदेश में 10 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले

Share Now

देहरादून। उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 10 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले। पांच मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया। सक्रिय मरीजों की संख्या 187 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, शुक्रवार को 14051 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। 10 जिलों अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, हरिद्वार, पौड़ी, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, टिहरी, ऊधमसिंह नगर और उत्तरकाशी में एक भी संक्रमित मरीज नहीं मिला है। वहीं, देहरादून में छह, नैनीताल में तीन और चंपावत में एक संक्रमित मरीज मिला है। 
प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 344335 हो गई है। इनमें से 330571 लोग ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के चलते अब तक कुल 7408 लोगों की जान जा चुकी है। प्रदेश की रिकवरी दर 96.00 प्रतिशत और संक्रमण दर 0.07 प्रतिशत दर्ज की गई है। उत्तराखंड में कोरोना महामारी की तीसरी लहर रोकने के लिए स्वास्थ्य ढांचे में सुधार हुआ है। संक्रमितों के इलाज के लिए आईसीयू बेड में 53 प्रतिशत और ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट में 91 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। कोविड सैंपल जांच के लिए प्रदेश में 11 सरकारी और 26 निजी पैथोलॉजी लैब हैं। सचिव स्वास्थ्य डॉ.पंकज कुमार पांडेय का कहना है कि प्रदेेश में कोविड के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन की रोकथाम के लिए सीमाओं पर सघन चेकिंग के साथ सैंपल जांच की जा रही है। कोरोना से निपटने के लिए प्रदेश में व्यापक इंतजाम किए गए हैं। पहले राज्य में कोरोना वायरस की जांच के लिए एक भी लैब नहीं थी। वर्तमान में 11 सरकारी और 26 प्राइवेट लैब हैं। वर्तमान में आइसोलेशन बेड 31 हजार से अधिक हैं। जबकि आईसीयू की संख्या 1655 हो गई है। तीसरी लहर की आशंका देखते हुए आईसीयू में 53 प्रतिशत वृद्धि की गई है। इस समय राज्य के पास 1016 वेंटिलेटर और 22420 ऑक्सीजन सिलिंडर हैं। सचिव ने कहा कि ऑक्सीजन कन्सेंट्रेटर को बढ़ा कर 9838 कर दिया गया है। जिला अस्पतालों में ऑक्सीजन की व्यवस्था की गई है। पीएसए ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट में 91 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई है। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और हेल्थ वेलनेस सेंटरों पर ऑक्सीजन सिलिंडर और कंसंट्रेटर की व्यवस्था कर दी गई है। वर्तमान में 2097 ऑक्सीजन बेड, नवजात शिशुओं के लिए 475 एनआईसीयू, बच्चों के लिए 465 पीआईसीयू चालू स्थिति में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!