जाम में फंसी प्रसव वेदना से पीड़ित महिला की बचाई जान

Share Now

-कम्बल का स्ट्रेचर तैयार कर महिला को पहुंचाया अस्पताल
-महिला ने दिया पुत्र को जन्म, परिजनों ने जताया पुलिस का आभार

रुद्रप्रयाग। जनपद पुलिस ने इंसानियत की मिसाल पेश की है। पुलिस ने जाम में फंसी प्रसव वेदना से पीड़ित महिला के लिए कम्बल का स्टेªचर तैयार कर सरकारी वाहन से चिकित्सालय पहुंचाया, जिस कारण महिला की जान बच पाई। महिला ने पुत्र को जन्म दिया है। परिजनों ने पुलिस के कार्य की जमकर प्रशंसा की।  
बता दें कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की रोकथाम को लेकर राज्य के सभी जिलों में जिला प्रशासन की ओर से कोविड कफ्र्यू लगाया गया है और कोविड कफ्र्यू का पालन पुलिस करवा रही है। नगर मुख्यालय क्षेत्र में इन दिनों आॅल वेदर का कार्य चल रहा है और यहां केदारनाथ तिराहे पर स्थित पेट्रोल पम्प के आगे की चढ़ाई पर हिल कटिंग का कार्य चल रहा है। कटिंग के दौरान मलबा उठाने की अवधि तक दोनों ओर के यातायात को कुछ समय रोककर पुनः यातायात संचालित कराया जा रहा है। मंगलवार को चढ़ाई पर यातायात खुलने के समय एक ट्रक खराब हो गया, जिस कारण दोनों छोरों पर जाम लग गया। यातायात पुलिस, एचपीयू और कोविड कफ्र्यू का पालन करवाने को लेकर बाजार में लगा पुलिस बल भी यातायात खोलने के लिए पहुंचा। इस दौरान जनपद चमोली की ओर से आने वाले एक वाहन में प्रसव वेदना से पीड़ित एक महिला भी इस जाम में फंस गयी। परिजनों की ओर से अपनी इस व्यथा को यातायात खुलवाने में जुटे पुलिस कर्मियों को बताया गया। सूचना पर कोतवाली रुद्रप्रयाग पुलिस ने रुद्रप्रयाग की तरफ जाम में फंसे सभी वाहनों को एक तरफ तरतीबवार व्यवस्थित कराते हुए कोतवाली रुद्रप्रयाग के सरकारी वाहन को उस स्थल तक ले गये, जहां पर खराब ट्रक खड़ा था। जिस वाहन से महिला अपने परिजनों के साथ आ रही थी। वहां से महिला को पुलिस कर्मियों ने उसे कम्बल का स्ट्रेचर तैयार कर आराम से उठाकर कोतवाली रुद्रप्रयाग के सरकारी वाहन तक लाए। महिला को सही ढंग से वाहन में रखवाकर परिजनों सहित जिला चिकित्सालय रुद्रप्रयाग लाया गया। जहां पर प्रसव वेदना से पीड़ित महिला को डाॅक्टरों ने एडमिट किया। महिला श्रीमती चम्पा देवी पत्नी मनोज कुमार निवासी नारायणबगड़ जिला चमोली ने पुत्र को जन्म दिया गया है। पुलिस की ओर से की गई त्वरित कार्यवाही पर परिजनों ने खुशी जताते हुए आभार जताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!