आम आदमी पार्टी महिला मोर्चा का हुआ विस्तार, मोर्चे में कई लोगों को मिली जिम्मेदारी

Share Now

देहरादून। आम आदमी पार्टी महिला मोर्चा का विस्तार किया गया है। मोर्चे के जिलाध्यक्ष, प्रदेष सचिव, प्रदेष प्रवक्ता और संगठन महासचिव नियुक्त किए गए हैं। मोर्चे के पदाधिकारियों की घोषणा पार्टी के मोर्चा प्रदेश प्रभारी एवं प्रदेश उपाध्यक्ष शिशुपाल रावत ने देहरादून में आयोजित पत्रकार वार्ता में की। इस दौरान शिशुपाल रावत ने कार्यालय में मौजूद सभी महिला पदाधिकारियों को जरुरी दिशा निर्देश दिए। उन्होने कहा कि , मातृशक्ति का इस प्रदेश के निर्माण में बहुत बड़ा योगदान है जिसे कभी नही भुलाया जा सकता है। उन्होने आगे कहा कि मात्र शक्ति इस प्रदेश के साथ साथ आम आदमी पार्टी की भी बहुत बड़ी ताकत है और यही ताकत अब आम आदमी पार्टी की नीतियों का घर-घर जाकर प्रचार प्रसार करेगी। उन्होंने आज महिला मोर्चा में कुछ महिलाओं को नई जिम्मेदारियां भी आंवटित की। उनके द्वारा महिला मोर्चा में प्रदेष सचिव,प्रदेष प्रवक्ता, जिलाध्यक्ष समेत संगठन महासचिव की घोषणा की गई। जिसमें सीमा जोषी प्रदेष सचिव,नीता देवी प्रदेष सचिव,युमना बिश्ट प्रदेष सचिव,अनुराधा रावत प्रदेष प्रवक्ता,नीलम डांगी जिलाध्यक्ष अल्मोडा,माया दुबे जिलाध्यक्ष नैनीताल,बीना कनौजिया जिलाध्यक्ष चंपावत,सीता देवी जिलाध्यक्ष पिथौरागढ,हर्शिता चमोला जिलाध्यक्ष कोटद्वार,ममता सिंह जिलाध्यक्ष हरिद्वार,लक्ष्मी सोनकर जिलाध्यक्ष रुडकी,अनीता रावत जिलाध्यक्ष पौडी,मालती षर्मा संगठन महासचिव हरिद्वार। उन्होंने सभी पदाधिकारियों को पद देने के साथ पार्टी को मजबूत करने के भी निर्देष दिए। इसके साथ प्रदेश प्रभारी ने देश में बढ़ रही महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार को लेकर राज्य और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि, अगर अब भी सरकार नहीं जागी और सरकारों ने जनता के लिए ईमानदारी से काम नहीं किया तो, आम आदमी पार्टी का महिला मोर्चा विंग सभी महिलाओं को सड़कों पर लेकर विरोध प्रदर्शन करने उतरेगा। शिशुपाल रावत ने आगे कहा कि, पिछले दिनों जिस प्रकार से चमोली में हमारी बहनों के साथ अमानवीय घटना घटित हुई वह पूरे प्रदेश के लिए बड़े ही शर्म की बात है। उन्होंने कहा कि राज्य के लोगों को अब राज्य की संपत्तियों पर भी अधिकार नहीं मिल रहा है। यह जल जंगल हमारी जनता के हैं ,लेकिन अब इन जंगलों में जाने से भी महिलाओं को रोककर जेलों में ठूसने का काम राज्य सरकार कर रही है। उन्होंने आगे कहा कि, यह आम आदमी पार्टी के महिला मोर्चा की ताकत ही थी कि, सड़कों पर प्रदर्शन करने के बाद मुख्यमंत्री को मजबूरन इस पूरी घटना के कमिश्नरी जांच के आदेश देने पड़े।
उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं का हवाला देते हुए भी कहा कि ,आज पूरे प्रदेश के दूरदराज के गांवों में महिलाओं को डिलीवरी के लिए दूरदराज ले जाया जाता है ,जिस कारण देरी से पहुंचने पर कई बार जच्चा-बच्चा दम तोड़ देते हैं। लेकिन सरकार सिर्फ हाथ पर हाथ धरे बैठी है और महिलाओं का इस सरकार में किसी भी तरह का सम्मान नहीं किया जा रहा हैं। उन्होंने प्रदेश की जनता को आवाहन करते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी हमेशा ही जनता के मुद्दों को उठाती आई है और आगे भी जनता के मुद्दों को पुरजोर तरीके से उठाने का काम करेगी। इसके साथ ही आज प्रदेश प्रभारी ने महिला मोर्चा में सभी बचे हुए पदों को जल्द से जल्द भरने के लिए भी अहम निर्देश दिए। जिसके बाद यहां मौजूद सभी कार्यकारी महिला प्रदेश अध्यक्षों ने जल्द ही संगठन में विस्तार के साथ सभी पदों पर नियुक्ति का प्रभारी को भरोसा दिलाया। इस दौरान कार्यकारी अध्यक्ष राधा सिंह, हेमा भंडारी, मंजू तिवारी समेत सीमा कश्यप, सुधा पटवाल, ममता शिंदे, यामिनी, डॉली, गीता सिंह और अन्य पधाधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!