अपने भ्रष्टाचार को छुपाने के लिए भाजपा ले रही कांग्रेस की आड़ः गरिमा दसौनी

Share Now

देहरादून। उत्तराखंड कांग्रेस की मुख्य प्रवक्ता गरिमा मेहरा दसौनी ने भाजपा प्रवक्ता सुरेश जोशी द्वारा लगाए गए इल्जामों पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। दसौनी ने कहा की भाजपा प्रवक्ता को कांग्रेस के घोटाले गिनाने का बहुत शौक चढ़ा है तो उन्हें कम से कम अपने गिरेबान में झांक लेना चाहिए था। दसोनी ने कहा राज्य गठन के बाद ऐसे अनेकों उदाहरण है जिनमें भारतीय जनता पार्टी पूरी तरह से बेनकाब होती है। दसोनी ने सिलसिलेवार तरीके से पूछा की स्टूरजिया हाउसिंग घोटाला किसकी देन था? सिडकुल घोटाला की सरकार की देन था? 56 हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट को तमाम शराब माफियाओं को देने के बाद किसके दबाव में रातों-रात एनओसी रद्द कर दी गई? 2010 का महाकुंभ घोटाला जिसकी वजह से रमेश पोखरियाल निशंक को अपनी मुख्यमंत्री की कुर्सी गंवानी पड़ी वह किस पार्टी की सरकार थी? बाद में केंद्र का मानव संसाधन विकास मंत्रालय भी किस वजह से निशंक जी से ले लिया गया? और तो और दसोनी ने कहा कि हम 2017 से सुनते आ रहे हैं कि उत्तराखंड की भाजपा सरकार जीरो टॉलरेंस की सरकार है फिर ऐसे में 2018 की 917 लेक्चरर पद पर भर्ती हो या फिर 2019 की वन दरोगा भर्ती में हुआ घोटाला या ताजा बात करें तो 2021-22 में हुए यूके ट्रिपल एससी की भर्तीयों में हुआ भ्रष्टाचार सुरेश जोशी बताएं कि यह सभी घपले भारतीय जनता पार्टी की सरकार में नहीं हुए तो किसकी सरकार थी?
गरिमा ने कहा कि सुरेश जोशी बताएं कि पिछले 6 सालों से राज्य में प्रचंड बहुमत और ट्रिपल इंजन की सरकार चल रही है ऐसे में क्या कारण है कि कांग्रेस के इतने घोटालों का संज्ञान होने के बावजूद भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने अभी तक किसी पर भी जांच नहीं बैठाई इसका मतलब यह समझा जाए कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार कांग्रेस के तथाकथित घोटालों को अपना संरक्षण दे रही है? क्या सुरेश जोशी अपनी ही सरकार को निकम्मा साबित करना चाहते हैं? द सोनी ने साफ तौर पर इल्जाम लगाया कि भारतीय जनता पार्टी आज जब चैतरफा घिर गई है ऐसे में अपनी सरकारों में हुए भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने के लिए कांग्रेस की आड़ लेने का काम कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!