मुफ्त बिजली पर बीजेपी की घोषणा जुमला साबित हुई, खुद बिजली मंत्री ने मानी बातः कर्नल कोठियाल

Share Now

देहरादून। आम आदमी पार्टी के सीएम प्रत्याशी कर्नल कोठियाल ने आज प्रदेश कार्यालय देहरादून में प्रेस वार्ता कर कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के बयान पर उठाया सवाल उन्होंने कहा, हरक सिंह रावत एक तरफ कहते हैं कि मैंने 100 यूनिट फ्री बिजली का प्लान बनाया,यहां के लोगों  को इसकी  जरूरत है और कोरोना के बाद लोगों की  दिक्कतें बढ़ी है। वहीं कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत कह रहे हमने प्रोजेक्ट बनाया था लेकिन केंद्र सरकार मंजूरी नहीं दे रहा है। हम हरक सिंह रावत से पूछना चाहते हैं मुफ्त बिजली पर फिर क्यों बीजेपी ने जनता को गुमराह किया। कर्नल कोठियाल ने कहा,हरक के बयानों के अनुसार, केंद्र इसलिए इसकी इजाजत नहीं दे रहा क्योंकि  यहां मुफ्त करके, बीजेपी को देश के अन्य बीजेपी शासित राज्यों में भी मुफ्त बिजली देनी पड़ेगी ।कुल मिला कर बीजेपी अपनी फ्री बिजली की घोषणा से बैकआउट कर गई और फ्री बिजली देने की इनकी घोषणा एक जुमला साबित हुई और बिजली को लेकर बीजेपी के बिजली मंत्री अपने मुफ्त बिजली के बयानों से पलट गए।
इसके अलावा कर्नल कोठियाल ने चुनौती देते हुए कहा,सरकार एक भी ऐसा बिल दिखा दे जहां,उत्तराखंड में फ्री बिजली मिलती है जबकि मैं आपको दिल्ली में  ऐसे लाखों बिल दिखा सकता हूं जहां,मुफ्त बिजली मिलती है और बिजली का बिल जीरो आता है। इसके अलावा कर्नल कोठियाल ने मुफ्त बिजली पर धामी और हरीश रावत को ओपन डिबेट की चुनौती देते हुए कहा, हम आपको बताएंगे कैसे मुफ्त बिजली दिल्ली में दे रहे और कैसे हम उत्तराखंड में देंगे। आप जब कहें,हम खुली बहस को तैयार हैं। इसके अलावा कर्नल कोठियाल ने पत्रकार वार्ता में मौजूद पत्रकारों को दिल्ली आमंत्रित करते हुए कहा,आप भी चलिए हमारे साथ दिल्ली हम आपको दिखाएंगे,कैसे वहां मुफ्त बिजली और जीरो बिल आता है। वहां के सरकारी स्कूल आपको दिखाएंगे,वहां के अस्पताल आपको दिखाएंगे। आप खुद देखिएगा दिल्ली में इन बेसिक जरूरतों पर कैसे केजरीवाल सरकार ने बेहतरीन काम जनता के लिए किया है।
उन्होंने कहा,आम आदमी पार्टी के उत्तराखंड की जनता को सत्ता में आते ही मुफ्त 300 यूनिट की गारंटी के बाद बीजेपी के बिजली मंत्री ने बौखलाहट में फ्री बिजली की बात की लेकिन उनकी ये बात केवल जुमला साबित हुई। उनके बिजली मंत्री हरक सिंह के बयानों से ये बात साफ हो गई कि फ्री बिजली को लेकर वो केवल जनता को गुमराह कर रहे थे।  उनके अनुसार, अब सीएम धामी भी फ्री बिजली देने के मूड में नहीं है। ऐसे में ये साफ हो गया है कि बीजेपी सरकार  उत्तराखंड की जनता को मुफ्त बिजली देने के मूड में नहीं है उन्होंने कहा, जब इन नेताओं को फ्री बिजली मिलती है तब इन्हें कोई दिक्कत नहीं होती, तो आम आदमी को मुफ्त बिजली देने में इन्हें  दिक्कत क्यूँ हो रही है। उन्होंने कहा ये बिलकुल साफ हो गया कि आम आदमी को अगर कोई फ्री बिजली दे सकता है तो वो आम आदमी पार्टी  ही है। उन्होंने कहा, हमने दिल्ली में फ्री बिजली  करके दिखाया है और हम उत्तराखंड में भी दे सकते। उन्होंने कहाा जब तक सत्ता पर खास आदमी बैठे रहेंगे तब तक आम आदमी के हक की बात नहीं हो सकती।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!