रूद्रपुर- आवास योजना व अमृत सरोवर निर्माण कार्यों की सीडीओ ने की समीक्षा

Share Now

रूद्रपुर। मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगाई ने शुक्रवार को विकास भवन सभागार में मनरेगा, पीएम आवास योजना ग्रामीण, अमृत सरोवर निर्माण कार्यों की गहनता से समीक्षा की। मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगाई ने सभी खण्ड विकास अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि कार्यों में किसी भी प्रकार की अनियमित्ता न हो, निर्माण कार्य पूरी गुणवत्ता तथा सयमबद्धता से पूरे किये जाये। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि सभी योजनाओं में पात्र व्यक्तियों का चयन पूरी पारदर्शिता व निष्पक्षता से किया जाये और संचालित योजनाओं का शतप्रतिशत लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुॅचाना सुनिश्चित करें। उन्होंने निर्देश दिये कि योजनाओं का क्रियान्वय पूरी पारदर्शिता, निष्पक्षता व समयबद्धता से किया जाये ताकि योजनाओं का लाभ समय से पात्र व्यक्तियों को मिल सके। उन्होंने राष्ट्रीय मोबाइल निगरानी सॉफ्टवेयर पर शतप्रतिशत मस्टरोल ऑनलाइन करने के निर्देश खण्ड विकास अधिकारियों को दिये। उन्होंने नियमानुसार सोशल ऑडिट कराने के निर्देश जिला विकास अधिकारी को दिये। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि प्रत्येक ब्लॉक से पीएम आवास योजना (ग्रामीण) के अन्तर्गत अच्छा आवास निर्माण कराने वाले 5-5 भवन स्वामियों को पुरस्कृत किया जायेगा। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि क्षेत्रों के चहुॅमुखी विकास और अन्तिम छोर पर बैठे व्यक्तियों तक योजनाओं का लाभ पहुॅचाने के लिए आपसी समन्वय से सामूहिक प्रयास किये जाये।
मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगाई ने अमृत सरोवर योजना के अन्तर्गत जनपद में 76 तालाबों का निर्माण कार्य शीघ्रता से पूरा करने के सख्त निर्देश सभी खण्ड विकास अधिकारियों व डीपीओ को दिये। उन्होंने परिस्थितियों की सरलता के आधार पर जनपद में कम से कम 45 तालाब निर्माण कार्य 30 जुलाई तक पूरा करने के कड़े निर्देश खण्ड विकास अधिकारियों को दिये। उन्होंने अमृत सरोवर निर्माण कार्य में प्रगति लाने हेतु प्रत्येक अमृत सरोवर के लिए नोडल कार्मिक नियुक्त करने के निर्देश दिये। उन्होंने मिट्टी का निस्तारण नियमानुसार करने के भी निर्देश सभी खण्ड विकास अधिकारियों को दिये।
उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) की समीक्षा के दौरान निर्माण कार्यों में धीमी प्रगति पर सख्त नाराजगी जाहिर करते हुए निर्देश दिये कि भवन निर्माण कार्य पूर्ण कराने हेतु सम्बन्धित व्यक्तियों को प्रोत्साहित किया जाये तथा निर्माण कार्यों को समय से जियो टेग किया जाये ताकि अगली किश्त समय से जारी की जा सके। उन्होंने अपने-अपने विकास खण्डों में आवास पूर्ण कराने हेतु सूक्ष्म कार्य योजना बनाकर कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि जिन आवास निर्माण कार्यों मे किसी भी प्रकार की समस्या नहीं है, उन्हें जल्दी पूरा कराया जाये। उन्होंने आवास निर्माण कार्यों की तीन दिन बाद पुनः समीक्षा बैठक आयोजित कराने के निर्देश परियोजना प्रबन्धक को दिये। इसके साथ ही कार्यों की जियोटेगिंग, सोशल ऑडिट, एटीआर अपलोडिंग, लेबर मटेरियल अनुपात, आधार सीडिंग, आजीविका पैकेज मॉडल, लाइवलीहुड कलस्टर आदि की विस्तार से समीक्षा की। बैठक में पीडी डीआरडीए हिमांशु जोशी, जिला विकास अधिकारी तारा ह्यांकी, खण्ड विकास अधिकारी सुरेश चन्द पन्त, गंगा गिरी गोस्वामी, शेखर चन्द्र जोशी, असीत आनन्द, नवीन चन्द्र उपाध्याय, चिन्ताराम आर्य, प्रेम सिंह डसीला सहित डीपीओ आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!