सीडीओ ने ली सैनिक कल्याण परिषद की बैठक

Share Now

टिहरी। जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल इवा आशीष श्रीवास्तव के दिशा-निर्देशन में विकास भवन सभागार नई टिहरी में मुख्य विकास अधिकारी नमामि बंसल की अध्यक्षता में जिला सैनिक कल्याण परिषद की बैठक आयोजित की गई। बैठक में पूर्व सैनिक, सैनिक विधवा एवं सैनिक आश्रितों के हितों को लेकर पूर्व बैठक में दिये गये निर्देशों के क्रम अनुपालन आख्या, वर्ष 2021-22 के क्रिया कलाप तथा जिला सैनिक कल्याण द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं आदि को लेकर चर्चा की गई। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि सैनिकों का सम्मान होना जरूरी है और आज बैठक में जो समस्याएं आई हैं, उनमें कई समस्याएं नीतिगत है। कहा कि सैनिकों हेतु जिला स्तर पर जितनी भी सहुलियत होगी दी जायेगी। साथ ही सीएसडी कैंटीन में दूरस्थ क्षेत्र से आने वाले सैनिकों की समस्याओं का उचित समाधान निकाला जायेगा। शासन स्तर से निस्तारित समस्याओं हेतु शासन से पत्राचार किया जायेगा तथा आगे भी पूर्व सैनिक, सैनिक विधवा एवं सैनिक आश्रितों के हितों को लेकर बैठक आयोजित की जाती रहेंगीं।
इससे पूर्व जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल (से.नि.) जी.एस. चन्द ने पूर्व बैठक के एजेण्डा बिन्दुओं में दिये गये निर्देशों के अनुपालन आख्या, जिला सैनिक कल्याण कार्यालय टिहरी द्वारा वर्ष 2021-22 में किये गये कार्यों, सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास विभाग का इतिहास, संगठात्मक ढांचा, उद्देश्य, दायित्व एवं कल्याणकारी योजनाओं से अवगत कराया गया। उन्होंने बताया कि द्वितीय विश्व युद्ध अनुदान के तहत 79 लाभार्थी, वीरता पुरस्कार अनुदान में 41, गृह कर की प्रतिपूर्ति में 75 लाभार्थी लाभान्वित किये गये हैं। उन्होंने केन्द्रीय सैनिक बोर्ड द्वारा छात्रवृति, पुत्री विवाह अनुदान, प्रधान छात्रवृत्त आदि के तहत अग्रसरित, भुगतान किये गये एवं लम्बित प्रकरणों के बारे में जानकारी दी गई। इसके आलाव पूर्व सैनिक एवं उनके आश्रितों की समस्याओं से संबंधित मामलों, जिला सैनिक कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी भी दी गई। इस अवसर पर सैनिक कल्याण ब्लॉक प्रतिनिधियों द्वारा भी समस्याओं से अवगत कराते हुए बताया गया कि घनसाली दूरस्थ क्षेत्र होने के कारण क्षेत्र में मोबाइल कैंटीन व्यवस्था, रोजगार हेतु उपनल को भेजा जाने वाला आवेदन जिला सैनिक कल्याण के माध्यम से प्रेषित करने, ईसीएचसी बौराड़ी में चिकित्सा विशेषज्ञ की भर्ती, उत्तराखण्ड आंदोलनकारियों में सैनिकों को भी चिन्ह्ति कर सम्मान पत्र निर्गत करने, एचएच 94 चौड़ीकरण में प्रभावितों को मुआवजा दिये जाने आदि समस्याएं/मांग की गई। इसके साथ ही प्रथम विश्व युद्ध के विक्टोरिया क्रॉस विजेता वीर गब्बर सिंह मेले को राजकीय मेले का दर्जा देने के साथ ही सेना भर्ती मेला आयोजित करने की मांग की गयी। इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक राजन सिंह, कर्नल(से.नि.) बी.एस.पुण्डीर, डीआईसी ईसीएचएस कर्नल(से.नि.) आर.एस. कण्डवाल, कोषाधिकारी नमिता सिंह, जीएम (डीआईसी) महेश प्रकाश, एसीएमओ डॉ. दीपा, डीटीडीओ अतुल भण्डारी,  ब्लॉक प्रतिनिधि जौनपुर बलवीर चन्द, जाखणीधार सुबेदार रिटायर्ट दुर्गा सिंह नेगी, प्रतापनगर सूबेदार रिटायर्ड भगवान सिंह सहित पूर्व सैनिक संगठन के अन्य पदाधिकारी एवं सदस्य मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!