BREAKING NEWS

उत्तराखंड मे मुफ्त टीका करण

कांग्रेस ही राज्य आंदोलनकारियों की सच्ची हितैषीः धीरेंद्र प्रताप

247

-कांग्रेस द्वारा खटीमा से लेकर मसूरी तक परिवर्तन यात्रा चलाए जाने के फैसले का किया पुरजोर स्वागत

देहरादून। उत्तराखंड में राज्य निर्माण आंदोलन कारियों के सबसे बड़े संगठन चिन्हित राज्य आंदोलनकारी संयुक्त समिति के केंद्रीय मुख्य संरक्षक और उत्तराखंड कांग्रेस के उपाध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप ने दिल्ली में आज पार्टी के शीर्ष नेताओं केंद्रीय प्रभारी देवेंद्र यादव पार्टी अध्यक्ष प्रीतम सिंह नेता प्रतिपक्ष श्रीमती इंदिरा हृदयेश और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की बैठक में हुए उस फैसले को ष् ऐतिहासिक ष्बताया है जिसमें पार्टी ने भाजपा की राज्य की भ्रष्ट और निकम्मी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए राज्य आंदोलनकारियों के ऐतिहासिक शहीद स्मारकों ष्खटीमा से लेकर मसूरी तक परिवर्तन यात्राश् आयोजित करने का निश्चय किया है .
धीरेंद्र प्रताप ने कहा है कि पिछले साढे 4 सालों में उत्तराखंड की निकम्मी और भ्रष्ट त्रिवेंद्र रावत सरकार और उसके बाद अब तीरथ सिंह रावत सरकार ने एक भी फैसला राज्य आंदोलनकारियों के सपनों के अनुरूप नहीं लिया है .यही कारण है कि कांग्रेस ने अब फिर से राज्य आंदोलनकारियों के सपनों को साकार करने के लिए उनके सपनों के अनुरूप गैरसेण को स्थाई राजधानी बनाने के लिए वह उत्तराखंड को एक आदर्श राज्य बनाने के लिए खटीमा से मसूरी तक राज्य आंदोलन के शहीदों की याद में ऐतिहासिक परिवर्तन यात्रा करने का फैसला किया है ।
उन्होंने कहा है कि स्वर्गीय नारायण दत्त तिवारी और  श्री हरीश रावत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकारों ने उत्तराखंड के स्वरूप को राज्य आंदोलनकारियों के सपनों के अनुरूप बनाने के लिए बड़े कदम उठाए थे परंतु भाजपा ने आंदोलनकारियों के पीठ पर छुरा भोंकने का काम किया ना तो उन को 10ः आरक्षण दिया ना ही गैरसेण को  स्थाई राजधानी बनाने का काम किया ।उन्होंने राज्य आंदोलनकारियों से आवाहान किया कि वे जब कांग्रेस की यात्रा खटीमा से मसूरी की तरफ चले तो राज्य के तमाम परिवर्तन यात्रा रूट पर सड़कों पर आए और खुलकर भ्रष्ट, अक्रमणीय  और धोखेबाज भाजपा सरकार के विरुद्ध कांग्रेस पार्टी का खुला समर्थन करें। उन्होंने कहा अब समय आ गया है की वोट की चोट से भाजपा को सबक सिखाना है ।उन्होंने आंदोलनकारियों को नारा दिया ष् भ्रष्ट भाजपा हटाओ कांग्रेस लाओ उ,त्तराखंड बचाओ।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!