कांग्रेस नेताओं की सोच संकुचित व जनविरोधीः भगत

Share Now

देहरादून। वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री एवं भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा  कि जहाँ प्रदेश में भाजपा सरकार कोरोना के खिलाफ युद्ध स्तर पर काम कर रही है तो वहीं कांग्रेस नेता या तो धरना दे रहे हैं या झूठे बयान जारी कर दुष्प्रचार में जुटे हैं।
श्री भगत ने कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह द्वारा श्मशान घाट की व्यवस्थाओं को लेकर उनके बयान की आलोचना किए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि दृष्टि दोष के कारण प्रीतम सिंह व कांग्रेस के नेताओं को यह ही नहीं दिखाई दे रहा कि उत्तराखंड में राज्य सरकार मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के नेतृत्व में कोरोना से निपटने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य कर रही है। चाहे मामला अस्पतालों का हो, बेड़ों का हो, दवाओं का हो, ऑक्सीजन का हो, जांच का हो, टीकाकरण का हो अथवा कोई भी अन्य संबंधित विषय हो सभी पर सरकार पूरी शक्ति से कार्य कर रही है।
श्री भगत ने कहा कि सरकार की नजर हर पहलू पर है। इसी क्रम में एक संवेदनशील पहलू जिसका संबंध मानवता से है और इसपर भी सरकार का ध्यान है और वह उन लोगों के परिवारों से संबंधित है जो कोविड के कारण अपने प्रिय जनों को खो चुके हैं और इस कारण उनके अंतिम संस्कार के लिए उन्हें श्मशान घाट जाना पड़ता है। यह भाजपा एवं हमारी सरकार की मानवीय सोच है कि हम जहाँ एक-एक जिंदगी को बचाने के लिए प्रयासरत हैं तो वहीं अंतिम संस्कार में जाने वालों के परिवारजनों की सुरक्षा को लेकर भी चिंतित हैं, इस कारण श्मशान घाट में पीपीई किट अथवा किसी अन्य व्यर्थ सामग्री के बिखरने से वहां संक्रमण न फैले इसे लेकर भी सरकार सतर्क है। इसी वजह से उन्होंने स्थानीय निकायों को जो श्मशान घाटों की व्यवस्था करते हैं, उन्हें कहा है कि वे वहां सफाई की व्यवस्था रखें जिससे कि वहां आने वाले व्यक्तियों और आसपास के क्षेत्रों के लोगों को संक्रमण अपनी चपेट में न ले सके। साथ ही दुखी परिवारों के लिए अगर वहां कुछ मूलभूत आवश्यकताएं पूरी करने की बात कही गई तो यह भी मानवीय संवेदना से जुड़ा है। लेकिन अफसोस की बात यह है कि न तो कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह में किसी प्रकार की मानवीय संवेदना दिखाई दे रही है और न ही उनके दल के नेताओं में। श्री भगत ने कहा कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और उनके पार्टी के लोग करोना के खिलाफ लड़ाई में कोई योगदान देने के स्थान पर छोटे स्तर की राजनीति पर उतरे हुए हैं और कोरी बयानबाजी, दुष्प्रचारऔर धरने तक ही इनकी भूमिका सीमित है। जबकि समाज के विभिन्न वर्ग सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रहे हैं। कोरोना के खिलाफ इस बड़ी लड़ाई में कांग्रेस को एक जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका निभानी चाहिए और इस संकट में आरोप-प्रत्यारोपों को छोड़कर सरकार के साथ मिलकर काम करना चाहिए, जिससे कि हम सब मिलकर इस कोरोना से जंग की लड़ाई को जीत सकें। इस लड़ाई से हम एकजुटता के साथ ही जीत सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!