ड्रेनेज सिस्टम को दुरुस्त करने के डीएम ने दिए निर्देश

Share Now

नैनीताल। जिलाधिकारी धीराज सिंह गब्र्याल ने हल्द्वानी में वर्षाकाल के दौरान होने वाली जलभराव एवं निकासी के सम्बन्ध में एक महत्वपूर्ण बैठक कैम्प कार्यालय नैनीताल में ली। उन्होंने शहर के सम्पूर्ण ड्रेनेज सिस्टम की जानकारी लेते हुए ड्रेनेज की समस्या के स्थायी तथा अस्थायी समाधान करने हेतु महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।
बैठक में अधिशासी अभियतां सिंचाई तरूण कुमार सहित अन्य अधिकारियों ने बताया कि नहरों की लम्बे समय से सफाई न होने एवं नहरों के चैक होने के कारण बरसात में पानी की निकासी सही से नहीं हो पाती है जिस कारण शहर के विभिन्न स्थानों में जल भराव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। जिस पर जिलाधिकारी श्री धीराज ने 7.5 किमी लम्बी गोलावार (मुख्य फीडर) नहर तथा 15 किमी लम्बी लालकुआॅ नहर सहित अन्य नहरों की तलीतोड़ सफाई हेतु 10 लाख रूपये की धनराशि आवंटित करते हुए सोमवार से प्राथमिकता के आधार पर लालकुआॅ नहर व गोलावार (मुख्य फीडर) नहर की सफाई का कार्य शुरू करने के निर्देश दिये। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि सफाई कार्य शीघ्रता से पूरा किया जाये तथा अन्य नहरों एवं नालों की सफाई भी शीघ्रता से की जाये। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि सफाई के दौरान निकलने वाले मलबे का तुरन्त उचित निस्तारण किया जाये। उन्होंने सिटी मजिस्ट्रेट तथा उप जिलाधिकारी को नालों की सफाई कार्य की मोनीटरिंग करने के निर्देश दिये। उन्होंने वाॅल्कवे के पास पानी की उचित निकासी हेतु तत्काल अस्थायी समाधान तुरन्त करने के निर्देश सिंचाई विभाग तथा स्थायी समाधान हेतु तुरन्त डीपीआर तैयार करने के निर्देश लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि नालों एवं नहरो से जल संस्थान, बीएसएनएल सहित अन्य विभागों की गुजरने वाली ऐंसी लाईने जोकि पानी के प्रवाह में बाधा उत्पन्न करती हैं, उन्हें चिन्हित करते हुए तत्काल शिफ्ट किया जाये। उन्होंने कालाढुंगी मार्ग पर भी पानी की उचित निकासी हेतु सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश दिये।
जिलाधिकारी श्री धीराज ने मुख्यमंत्री घोषणा के अन्तर्गत निगम में ड्रेनेज हेतु डीपीआर तैयार कर रही फीडबैक इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड के प्रतिनिधि कोस्तुब मुखर्जी से दूरभाष पर वार्ता कर इन्द्रा नगर नाले की डीपीआर एक सप्ताह के भीतर उपलब्ध कराने तथा शहर की डीपीआर शीघ्रता से उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने गोलापार एसटीपी प्लांट तक ड्रेनेज पहुॅचाने हेतु रेलवे से एनओसी के लिए रेलवे के उच्चाधिकारियों से तुरन्त पत्राचार एवं वार्ता करने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी श्री धीराज ने कुमाऊॅ मण्डल की मुख्य व्यवसायिक व पर्यटन गतिविधियों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली तीन पानी से नरीमन चैराहे तक की सड़क को सही कराने के लिए एनएचएआई के चैयरमेन एसएस सन्धु से दूरभाष पर वार्ता कर सड़क की वास्तविक स्थिति एवं संभावित दुर्घटनाओं आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी। जिस पर श्री संधु ने पुनः कार्य योजना प्रेषित करने तथा प्राथमिकता के आधार पर समाधान करने की बात कही। गौरतबल है कि लोनिवि द्वारा लगभग 18 करोड़ रूपये की धनराशि का प्रस्ताव एनएचएआई को भेजा गया है। बैठक में अपर जिलाधिकारी अशोक जोशी, अधीक्षण अभिंयता जल संस्थान विशाल सक्सैना, जल निगम ओमपाल सिंह, लोनिवि एबी काण्डपाल, अधिशासी अभियंता सिंचाई तरूण कुमार, पेयजल निगम एके कटारिया, सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!