डीएम ने जोनल एवं सैक्टर मजिस्ट्रेट को दिए जरूरी दिशा-निर्देश

Share Now

देहरादून। विधानसभा चुनाव को निष्पक्ष, निर्विघ्न एंव शांतिपूर्वक सम्पन्न कराने हेतु जिला निर्वाचन अधिकारी व जिलाधिकारी डॉ0 आर राजेश कुमार ने सर्वे ऑडिटोरियम हार्थीबड़कला में समस्त रिटर्निंग अधिकारी, जोनल एवं सैक्टर मजिस्टेªट को निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान अपनाये जाने वाली प्रक्रिया के सम्बन्ध में विस्तार पूर्वक ब्रीफ करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होने भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि निर्देशों का अक्षरशः अनुपालन करवाना सुनिश्चित करेंगे। सभी कार्मिकों को आपसी समन्वय स्थापित करते हुए टीम भवना से सौंपे गए दायित्वों का निर्वहन करने के निर्देश दिए। जनपद देहरादून राज्य का पहला जनपद है जहां पर पीडीएमएस कन्ट्रोलरूम में पीडीएमएस/एनकोर पर डाटा अपलोड की हैंडसऑन टेªनिंग कराई गई।
             जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी ने सभी रिटर्निंग अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि एसएसटी, वीएसटी, एफएसटी टीमों को अपने क्षेत्रान्तर्गत सक्रिय बनाए रखेंगे साथ ही आपसी बेहतर समन्वय स्थापित करते हुए हर घटनाक्रम पर निगरानी बनाए रखेंगे तथा सूचना सम्बन्धित रिटर्निंग अधिकारी को उपलब्ध करायेंगे। जोनल एंव सैक्टर मजिस्ट्रेट को अपने-अपने क्षेत्रान्तर्गत बूथों पर सक्रियता से निगरानी बनाये रखने तथा समुचित जानकारी निरन्तर प्राप्त करते रहने के निर्देश दिए साथ ही पीठासीन अधिकारी से सूचना प्राप्त कर पीडीएमएस कन्ट्रोलरूम को आयोग द्वारा निर्धारित समय के अनुसार रिपोर्ट प्रेषित करगें।
             जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी ने समस्त रिटर्निंग अधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने-अपने विधानसभा के समस्त कार्मिकों को अवगत कराना सुनिश्चित करेंगे कि अपने-अपने मतदेय स्थलों पर 200 मीटर दूरी पर वाहन तथा 100 मीटर की दूरी पर से मोबाईल फोन प्रतिबन्धित रखा जाएगा। उन्होंने सभी रिटर्निंग अधिकारियों, जोनल एवं सैक्टर मजिस्टेªटों को निर्देश दिए कि मतदेय स्थलों पर भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों का अक्षरशः पालन करवाया जाए इसके लिए सभी सैक्टर मजिस्टेªट अपनी पोलिंग पार्टियों से समन्वय कर निर्देशित करने के साथ ही  पोलिंग पार्टियों को मतदान की प्रक्रिया प्रारम्भ होने से 1 घंटा पूर्व किये जाने वाले मॉक पोल की प्रक्रिया को पूर्ण करते हुए मतदान प्रक्रिया प्रारम्भ कराने के आवश्यक दिशा-निर्देश दिए साथ ही सैक्टर एवं जोनल मजिस्टेªट को ईवीएम मशीन में खराबी की शिकायत आने पर सम्बन्धित बूथ में तत्काल  रिजर्व में रखी मशीन उपलब्ध कराने को कहा। जिला निर्वाचन अधिकारी/ जिलाधिकारी ने पोलिंग पार्टीयों को मतदान स्थल पर वोटर कार्ड के अलावा अन्य अभिलेख जिनको दिखाकर मतदान किया जा सकता है की जानकारी देने तथा मतदेय स्थलों पर चस्पा करवायें जाएं ताकि कोई भी मतदाता मतदान से वंचित न रहे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि लोकतंत्र के इस महापर्व में सभी कार्मिक अपने दायित्वों का गंभीरता से निर्वहन करते हुए निर्वाचन को निष्पक्ष, निर्विघ्न एवं शान्तिपूर्वक ढंग से सम्पन्न करने में अपना योगदान दें। रिटर्निंग अधिकारी ईवीएम एवं निर्वाचन सामग्री वितरण के समय विशेष ध्यान रखेगें ताकि इस कार्य में अनावश्यक विलंम्ब ना हो। मतदेय स्थल पर कोई भी व्यक्ति राजनैतिक पार्टी एवं प्रत्याशी प्रचार-प्रसार वाली सामग्री पोलिंग बूथ पर नहीं ले जाएंगे, यदि कहीं किसी प्रकार का विवाद/प्रकरण  संज्ञान में आने पर उसको तत्काल पीठासीन अधिकारी के संज्ञान में लाई जाए। पोलिंग पार्टींया रवानगी के उपरान्त दिए गए रूटचार्ट के अनुसार अपने गंतव्य स्थल तक सफर तय करेंगी। इस दौरान पोलिंग पार्टियां बीच में कहीं पर भी नही रूकेंगी तथा सभी पोलिंग पार्टी, कार्मिक रात्रि विश्राम अपने गंतव्य स्थल पर करेंगी। साथ दूरस्त क्षेत्रों की पोलिंग पार्टियां जिला प्रशासन द्वारा चिन्हित किए गए स्थलों के अतिरिक्त कहीं अन्य स्थल पर नही रूकेंगी। कोई भी पोलिंग पार्टी प्राईवेट स्थल पर नहीं रूकेंगी ना ही जलपान, भोजन इत्यादि ग्रहण करेंगी। इस अवसर पर नोडल अधिकारी कार्मिक/अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व के.के मिश्रा, अपर जिलाधिकारी प्रशासन/ रिटर्निंग अधिकारी कैन्ट डॉ0 शिव कुमार बरनवाल, रिटर्निंग अधिकारी रायपुर मनीष कुमार, मसूरी नरेश दुर्गापाल, राजपुर रजा अब्बास, चकराता सौरभ असवाल, विकासनगर विनोद कुमार, ऋषिकेश अपूर्वा पाण्डे, डोईवाला युक्ता मिश्रा, सहसपुर लतिका सिंह, धर्मपुर आर.े के तिवारी, जोनल एवं सैक्टर मजिस्टेªट सहित मास्टर टेªनर उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!