डीएम ने कोविड संक्रमण से बचाव एवं पूर्व तैयारियों की समीक्षा की

Share Now

रूद्रपुर। जिलाधिकारी युगल किशोर पंत ने कलेक्ट्रेट सभागार में कोविड-19 संक्रमण की सम्भावित चौथी लहर के दृष्टिगत सम्बन्धित जनपद स्तरीय अधिकारियों व स्वास्थ्य विभाग के साथ कोविड संक्रमण से बचाव एवं पूर्व तैयारियों की समीक्षा की। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग की टीम को यह निर्देश दिये कि पूर्व की भांति सम्पूर्ण स्वास्थ्य व्यवस्था दुरूस्त कर ली जाये तथा अस्पताल में कोविड-19 संक्रमित मरीजों की क्षमता के अनुसार दवाईया, उपकरण पी0पी0ई0 कीट व मानव संसाधन की व्यवस्था किया जाना सुनिश्चित कर लें। तकनीकी उपकरणो के संचालन हेतु तकनीकी स्टॉफ की व्यवस्था एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम भी ससमय करा लिये जाये। उन्होने अधीशासी अभियन्ता विधुत वितरण खण्ड रूद्रपुर जनपद में स्थापित ऑक्सीजन प्लांट में यथा आवश्यकता पड्ने पर निर्बाध विधुत आपूर्ति किये जाने हेतु निर्देशित किया गया। उन्होने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिये कि जनपद में स्थित समस्त निजी अस्पतालों के साथ भी बैठक कर लें जिसमें अचानक संक्रमण के बढने की स्थिति में निजी अस्पतालो से सामन्जस्य स्थापित किया जा सकें। उन्होने कहा कि वैकशीनेशन एवं सैम्पलिंग को बढाया जाये। उन्होने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि 12 से 14 व 15 से 17 वर्ष के आयु के बच्चों को स्कूलों में वैक्सीन लगाना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि जो लोग अनुमन्य है उनको बूस्टर डोज शतप्रतिशत लगाई जाये। उन्होेंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी विभागों समन्वय बना के अधिकारियों/कर्मचारियों को बूस्टर डोज लगाना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने सभी लोगो से अपील करते हुए कहा कि कोविड-19 संक्रमण की सम्भावित चौथी लहर की रोकथाम हेतु कोविड-19 के नियमों का पालन अवश्य करें। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई, अपर जिलाधिकारी डॉ0 ललित नारायण मिश्र, नगर आयुक्त विशाल मिश्रा, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 हरेन्द्र मलिक, जिला विकास अधिकारी डॉ0 महेश कुमार, जिला कार्यक्रम अधिकारी उदय प्रताप सिंह, डीपीआरओ आरसी त्रिपाठी, पीएमएस डॉ0 डीएस पंचपाल, जिला आपद प्रबन्धन अधिकारी उमाशंकर नेगी आदि उपस्थि थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!