थल सेना के पूर्व जनरल विपिन चन्द्र जोशी को ८५वी जयंती पर मेरु रैबार न्यूज़ नोएडा कार्यालय में याद किया

Share Now

पूर्व जनरल विपिन चन्द्र जोशी को ८५वी जयंती पर याद किया गया।

आनंद जोशी

नई दिल्ली: ५ दिसंबर, २०२० को थल सेना के पूर्व जनरल विपिन चन्द्र जोशी को ८५वी जयंती पर मेरु रैबार न्यूज़ नोएडा कार्यालय में याद किया गया उत्तराखण्ड समाज के आंदोलनकारियों, साहित्यकारों, समाजसेवियों ने जनरल जोशी को अपनी श्रद्धांजलि अपिर्त की। उत्तराखण्ड जागरण के संपादक श्री सतेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि जनरल जोशी ने सरकारी सेवा में रहते हुए नब्बे के दशक में उत्तर प्रदेश में उत्तराखण्ड आंदोलनकारियों पर सरकारी जुल्म के खिलाफ बयान दिया था कि उत्तराखण्ड के लोग शांति प्रिय लोग हैं। वहां के हर घर से सेना में लोग हैं और भुतपुर्व सैनिक बहुल छेत्र है उत्तराखण्ड। अगर ये लोग बागी होगये तो सरकार को इन लोगों को संभालना मुश्किल हो जायेगा। उसके कुछ समय बाद जनरल जोशी का विषम परस्थितियों में अचानक निधन होगया था। जिसे आप भी की दृष्टि से देखते हैं कि किसी शाजिस के तहत जनरल जोशी के साथ कुछ अनिष्ट हुवा हो।
श्रद्धांजलि सभा में बरिष्ठ आंदोलनकारी श्रीमती उषा नेगी, अनिल पंत, साहित्यकार जयपाल सिंह रावत, दिनेश ध्यानी, हरीश असवाल, भाजपा के युवा नेता उदयराम ममगाईं राठी, पत्रकार रमेश चन्द्र , अशोक कलूड़ा , रामचंद्र सिंह , रूचि सहित कई लोगों ने भाग लिए।
सभी लोगों ने कहा की आज हम सभी को उत्तराखण्ड के विकास के लिए जनरल जोशी के आदर्शों पर चलना होगा। पहाड़ से पलायन और लोगों का अपने सरोकारों के प्रति सजग न होना उचित नहीं है। जनरल जोशी जी सक्षम उत्तराखण्ड का सपना देखा था लेकिन आज हालत काफी निराशाजनक है।
अंत में दो मिनट की मौन श्रद्धांजलि के साथ सभी ने जनरल जोशी को नमन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!