पूर्व सीएम हरीश रावत ने पुरानी जेल के नेहरु वार्ड़ पहुॅचकर दी पंड़ित नेहरु को श्रद्धाजंलि

Share Now

देहरादून। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में आधुनिक भारत के निर्माता पूर्व प्रधानमंत्री पंड़ित जवाहर लाल नेहरु को श्रद्धांजलि अर्पित की इस अवसर पर उनके साथ पूर्व कांग्रेस प्रदेश गणेश गोदियाल भी उपस्थित थे। इस अवसर पर बोलते हुए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि पंड़ित नेहरु ने आजादी की लड़ाई में महात्मा गांधी जी व सरदार पटेल के सानिध्य में लड़कर देश को आजाद कराने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उन्होने कहा कि पंड़ित नेहरु बच्चों के भी चाचा नेहरु थे इसलिए वे बाल दिवस की भी सभी को बधाई देते है। उन्होने कहा कि पंडित नेहरु भारत के जीवंत शख्सियत रहे है उनके लिए महान कवि रविन्द्र नाथ टैगोर ने कहा कि पंड़ित नेहरु एक महान तपस्वी है, और कहा कि भारत को अंतरिक्ष से लेकर पताल तक देश के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।
आज अंतरिक्ष आयोग, परमाणू आयोग, एम्स, ओएनजीसी, रक्षा क्षेत्र से जुड़े विभिन्न संस्थाओं को खड़ा करने में भी उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है, देश के सर्वगीर्ण व सर्वपक्षीय, समावेशी विकास की एक मजबूत बूनियाद उन्होने रखी थी अर्न्तराष्ट्रीय स्तर पर भी उन्होने भारत को कई सोपान में खड़ा किया है। उन्होने कहा कि आज कुछ ताकतें गांधीवाद, नेहरुवाद, अम्बेड़कर के विचारों पर हमला कर रहे है वे चाहते है कि गांधी, नेहरु व अम्ड़ेकर के विचार देश से समाप्त हो जायें परन्तु यह उनकी भूल है वहीं उन्होने भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री व सांसद तहरथ सिंह रावत के कमीशनखोरी बढ़ने के ब्यान पर भी कटाक्श करते हुए कहा कि अब तो भाजपा के नेता ही भ्रष्टाचार बढ़ने की बात जब कर रहे हो तो समझा जा सकता है कि आम जनता को क्या भुगतना पड़ रहा होगा। उन्हांेने कहा कि यह चिन्ता का विषय है कि जनता का इस भ्रष्टाचार के वातावरण से मनोबल न गिर जाये।
वहीं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पुरानी जेल पहुॅचकर पंड़ित नेहरु को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए अपनी श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुए कहा कि आधुनिक भारत के निर्माण में पंड़ित नेहरु का अपूर्व योगदान रहा है देश को समावेशी विकास, लोकतंत्र कर राह पर मजबूती के साथ खड़ा करने में भी उनकी भूमिका रही है।
पूर्व कांग्रेस प्रदेश गणेश गोदियाल ने कहा कि आधुनिक भारत के निर्माता अगर किसी को कहा जाये तो सच्चे अर्थाे में वो पूर्व प्रधानमंत्री पंड़ित जवाहर लाल नेहरु जी है आज भारत को विश्व शक्ति, विश्व गुरु में देखा जाता है उसका आधार पंड़ित नेहरु ही है उन्होने आजादी की लड़ाई में संघर्ष करते हुए कई वर्ष अग्रेजों की जेल में बिताये अंग्रेजो से कोई समझौते नही किये उनका केवल एक लक्ष्य रहा भारत की आजादी। और आजादी के बाद उन्होने आधुनिक भारत की नींव रखी बड़े-बड़े प्रतिष्ठानों की नींव रखी उनको अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल, मंत्री प्रसाद नैथानी, सुरेन्द्र कुमार, गोदावरी थापली, महेन्द्र सिंह नेगी, मनीष नागपाल, राजेश चमोली, सुशील राठी, श्याम सिंह चौहान, गरिमा दसौनी, सुलेमान, मोहन काला, शीशपाल बिष्ट, प्रताप असवाल आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!