गंगा आरती में हुए शामिल होने के बाद उत्तराखंड को राहुल गांधी के चार वायदे

Share Now

हरिद्वार। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी शनिवार को पार्टी के चुनाव प्रचार को धार देने के लिए हरिद्वार पहुंचे। यहां वह वर्चुअल रैली करने के बाद गंगा आरती में शामिल हुए। इस दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं और प्रत्याशियों में खासा उत्साह देखने को मिला। भगत सिंह चौक पर वर्चुअल रैली के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि हम आपसे चार वादे कर रहे हैं। चार लाख लोगों को रोजगार देंगे। घरेलू सिलिंडर की कीमत पांच सौ रुपये से ज्यादा नहीं होगी। अगर उत्तराखंड में हमारी सरकार आई तो हम राज्य में न्याय योजना लागू करेंगे, जिसके तहत पांच लाख परिवारों को चालीस हजार रुपये हर साल दिए जाएंगे। चिकित्सा सुविधाएं दरवाजे तक पहुंचाने का चौथा वादा राहुल गांधी ने किया। कहा कि हमने राजस्थान, छत्तीसगढ़ और पंजाब के किसानों की कर्जमाफी का वादा किया था और हमने वह किया।
अपने संबोधन के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि कुछ दिन पहले संसद ने मैंने कहा था कि एक देश के दो देश बनाए जा रहे हैं। राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योनजाएं दो देश बना रही हैं। जिसमें एक देश चुने हुए पूंजीपतियों का है। जो प्राइवेट हवाई जहाज, मर्सिडीज कुछ भी सोचे वो मिल सकता है। दूसरा हिंदुस्तान मजदूरों और छोटे व्यापारियों है। उन्होंने कहा कि लेकिन हम दो हिंदुस्तान नहीं बनने देंगे। हम न्याय योजना लागू करेंगे। उन्होंने कहा कि जो प्रधानमंत्री होता है वह जनता से बात करता हैं और जनता की आवाज सुनता है। नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं हैं, वह 21वीं सदी के राजा हैं। विधानसभा चुनाव का प्रचार अपने अंतिम चरम पर पहुंच रहा है। हालांकि, कोविड गाइड लाइन के चलते प्रतिबंधों के साथ चुनाव प्रचार किया जा रहा है, लेकिन अब कांग्रेस की तरफ से चुनाव प्रचार करने के लिए शनिवार शाम कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी हरिद्वार पहुंचे। राहुल गांधी भगत सिंह चौक स्थित जवाहर लाल नेहरू नेशनल यूथ सेंटर में वर्चुअल रैली की। इसके बाद गंगा आरती में शामिल होने के लिए वह हरकी पैड़ी पर गए। कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री अंशुल श्री कुंज ने बताया कि कोविड प्रोटोकॉल के चलते कार्यक्रम में प्रत्यक्ष तौर पर 1000 कार्यकर्ताओं ने ही प्रतिभाग किया। लेकिन वर्चुअल माध्यम से प्रदेश के लोग रैली में जुड़े रहे। जनसभा में कांग्रेस की ओर से शामिल होने वाले चुनिंदा एक हजार नेताओं को पास जारी किया गया। इनमें जनपद के सभी 11 प्रत्याशी और प्रदेश के बड़े नेता शामिल रहे। जनसभा स्थल में आने के लिए दो प्रवेश द्वार बनाए गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!