राज्यपाल ने होटल एसोसिएशन, व्यापार मंडल और बोट हाउस क्लब के पदाधिकारियों के साथ की बैठक

Share Now

नैनीताल। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह(से नि) ने बुधवार को राजभवन में नैनीताल के होटल एसोसिएशन, व्यापार मंडल और बोट हाउस क्लब के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में नैनीताल में पर्यटकों की बढ़ती संख्या के अनुरूप अवस्थापना सुविधाओं की स्थापना से संबंधित चुनौतियों पर सभी स्टेक होल्डर्स के साथ विस्तार से चर्चा की गई और उनके सुझाव प्राप्त किये। बैठक में राज्यपाल ने कहा कि नैनीताल शहर उत्तराखण्ड के लिए एक धरोहर के रूप में है। यहां नयना देवी का आशीर्वाद व प्राकृतिक सौंदर्य देश एवं विदेश के पर्यटकों को आकर्षित करता है। उन्होंने कहा कि यह हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है कि नैनीताल में पर्यटकों की बढ़ती संख्या के अनुरूप अवस्थापना सुविधाओं में आ रही चुनौतियों से किस तरह निपटा जाए।
राज्यपाल ने कहा कि नैनीताल में पार्किंग व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने, रोड कनेक्टिविटी को ठीक करने, पीने के पानी की समस्या से निजात दिलाने, अवस्थापना सुविधाओं को बढ़ाने व नैनीताल को ग्लोबल टूरिज्म से जोड़ने आदि पर दीर्घ कालिक योजना तैयार करनी होगी। उन्होंने पदाधिकारियों से अनुरोध किया कि नैनीताल शहर को बेस्ट टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनाने के लिए सभी स्टेक होल्डर्स एक मास्टर प्लॉन तैयार कर साझा करें जिससे उनके सुझावों को शहर की बेहतरी के लिए योजना में शामिल किया जा सके। राज्यपाल ने कहा कि पार्किंग की समस्या से निपटने के लिए मल्टीस्टोरी पार्किंग व ट्राली लगाने का विचार किया जाएगा। उन्होंने पदाधिकारियों से पर्यटन में मॉर्डनाइजेशन व वैल्यू एडिशन जोड़ने का भी सुझाव दिया।

बैठक में उपस्थित पदाधिकारियों द्वारा पर्यटन व्यवसाय के साथ-साथ दैनिक चुनौतियों के बारे में राज्यपाल को अवगत कराया। इस दौरान पदाधिकारियों द्वारा मुख्य रूप से शहर की पार्किंग क्षमता बढ़ाये जाने, ट्रैफिक व्यवस्था को सुदृढ़ किये जाने, स्वास्थ्य सुविधाओं को मजबूत करने, शहर के विभिन्न नौलों की सफाई, नैनीताल में हैलीपोर्ट बनाए जाने व हैली सेवाओं से जोड़ने आदि के बारे में अवगत कराया। बैठक के दौरान पदाधिकारियों ने कई अन्य विषयों पर भी राज्यपाल का ध्यान आकर्षित किया जिनमें शहर में वैंड़िग जोन बनाये जाने, श्मशान घाट हेतु जाने वाले रास्ते को ठीक करने, रेगेटा सेलिंग प्रारम्भ करने, नैनीताल जू के लिए जाने वाली सड़क को ठीक किया जाना आदि मुख्य रूप से रहे।

राज्यपाल ने सभी समस्याओं के लिए उचित कार्यवाही का आश्वासन देते हुए कहा कि इसके लिए संबंधित विभागों, स्थानीय प्रशासन के अलावा मुख्य सचिव एवं मुख्यमंत्री से वार्ता की जायेगी। उन्होंने कहा कि नशेखोरी की प्रवृति को रोकने के लिए हमें सामूहिक रूप से जिम्मेदारी लेते हुए जागरूकता अभियान के साथ-साथ इसमें लिप्त लोगों के विरुद्व उचित कार्यवाही करने की जाएगी। इस दौरान सचिव राज्यपाल डॉ. रंजीत सिन्हा ने भी कई महत्वपूर्ण सुझाव रखे। उन्होंने नैनी झील के मरम्मत कार्यों के लिए आपदा मद में प्रस्ताव प्राप्त होते ही डीपीआर तैयार करवाने को आश्वासन दिया। पदाधिकारियों नैनीताल शहर की समस्याओं एवं चुनौतियां के सन्दर्भ में बैठक आहुत करने पर राज्यपाल का धन्यवाद किया गया। बैठक में होटल एसोसिएशन, व्यापार मंडल और बोट हाउस क्लब के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!