यूकेडी की सरकार बनी तो पहाड़ में युवाओं को मिलेंगे 400 रुपए प्रतिदिन

Share Now

नैनीताल। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2022 की तारीखों का एलान होने में ज्यादा समय नहीं बचा है। ऐसे में सभी राजनीतिक दल जनता के बीच पहुंचकर अपनी पैठ बनाने में लगे हुए हैं। उत्तराखंड क्रांति दल (यूकेडी) के केंद्रीय अध्यक्ष काशी सिंह ऐरी भी चुनावी कार्यक्रम में नैनीताल पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने बीजेपी और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा।
काशी सिंह ऐरी ने कहा कि यूकेडी उत्तराखंड को हमने बनाया जिसे हम ही बचाएंगे नारे के साथ उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2022 में जाएगी। ऐरी ने कहा कि उत्तराखंड को बने हुए 21 साल पूरे हो चुके हैं। इन 21 सालों में कांग्रेस और बीजेपी ने बारी-बारी से प्रदेश को लूटा है। स्थानी राजधानी के नाम पर दोनों दल चुप रहे। ऐरी ने कहा कि पूजीपतियों को औने-पौने दामों पर उत्तराखंड की जमीन बेची गई। सरकार ने भू-कानून तक नहीं बनाया। उत्तराखंड सरकार ने डेढ़ लाख करोड़ से अधिक की परिसंपत्ति यूपी सरकार से नहीं ली। प्रदेश में पलायन को रोकने के लिए सत्तासीन सरकारों ने कुछ नहीं किया। बीजेपी सरकार ने जनता को गुमराह करने के लिए पलायन आयोग का गठन किया था, लेकिन धरातल पर कोई काम नहीं किया। ऐरी ने कहा ने कहा कि यूकेडी के घोषणा पत्र में पलायन पर विशेष फोकस किया है। सरकार बनने पर मनरेगा की तर्ज पर पहाड़ों में खेती करने वाले युवाओं और उनके परिवार में पशुपालन करने वालों को 400 रुपए प्रतिदिन का मेहनताना दिया जाएगा, जिससे पलायन पर रोक लगेगी। साथ ही उत्तराखंड की परंपरागत खेती व पशुपालन को भी बढ़ावा मिलेगा। काशी सिंह ऐरी ने कहा कि यूकेडी ने 70 में से 16 विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं. बाकी सीटों पर जल्द ही प्रत्याशियों की घोषणा कर दी जाएगी. यूकेडी ने पिछले विधानसभा चुनाव में हुई गलतियों से सबक लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!