केंद्र व राज्य की महत्वाकांक्षी योजनाओं की प्रगति बढ़ाने के दिए निर्देश

Share Now

देहरादून। जिला स्तरीय समीक्षण समिति जिला सलाहकार समिति की त्रैमासिक बैठक मुख्य विकास अधिकारी झरना कमठान की अध्यक्षता में ऋषिपर्णा सभागार कलेक्ट्रेट में आयोजित की गई। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने विभागों एवं बैकर्सं को आपसी समन्वय के साथ केन्द्र एवं राज्य सरकार महत्वाकांक्षी योजनाओं की प्रगति बढाने के निर्देश दिये। साथ ही बैंकर्स को प्राथमिक क्षेत्र में अनुपातिक उपलब्धि बढाने के निर्देश दिये। बैठक में वार्षिक ऋण योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, वीरचन्द्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, किसान क्रेडिट कार्ड योजना, प्रधानमंत्री कृषि बीमा योजना आदि योजनाओं की समीक्षा की गई। वार्षिक लक्ष्य 5682.10 करोड़ के सापेक्ष त्रैमासिक उपलब्धि 1943.95 करोड़ कुल 34.21 प्रतिशत रहे। कृषि क्षेत्र में 18.10 प्रतिशत एमएसएमई 43.51 प्रतिशत अन्य प्राथमिक क्षेत्र में 13.31 प्रतिशत रही।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने प्रधानमंत्री जनधन योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना में धीमी प्रगति वाले बैंकों को सामाजिक सुरक्षा योजनाओं में प्रगति बढ़ाने के निर्देश दिए। साथ ही योजनाओं के प्रचार-प्रसार हेतु शिविर लगाते हुए प्रगति बढ़ाने तथा जिन बैंकों का उक्त क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन है उनसे समन्वय करते हुए कैंपेन चलाने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना की प्रगति हेतु सभी बैंको को 15 दिन में बैंक स्तर पर समीक्षा करने के निर्देश दिए। उन्होने बहुउद्देशीय वित्त एवं विकास निगम के अन्तर्गत अनुसूचित जाति एवं अनुसनूचित जनजाति लाभार्थियों को ऋण योजना में समस्त बैंकांेे को निर्देश दिए कि बैक में आवदन लम्बित न रहेे इसके लिए सम्बन्धित विभाग एवं बैंक आपसी समन्वय करते हुए शिविर लगा कर पात्र लाभार्थियों को योजना से लाभान्वित करें। राष्ट्रीय आजीविका मिशन शहरी एवं ग्रामीण योजना के आवेदन लम्बित होने पर सभी बैकोें को अपनी अपनी शाखाओं से समन्वय करते हुए प्रगति बढ़ाने के निर्देश दिए । प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना की प्रगति बढाने के लिए विभाग एवं बैंक आपसी समन्वय करते हुए आवेदनों को निस्तारित करते हुए प्रगति बढाने के साथ ही लीड बैंक प्रबन्धक को विभागों एवं बैंकों की अलग से समन्वय बैठक करने के निर्देश दिये। बैठक में वित्तीय वर्ष 2022 की त्रैमासिक तक एनपीए एवं रिकवरी की समीक्षा करते उन्होंने क्षेत्रीय प्रबन्धक लीड बैंक को रिकवरी बढाने के निर्देश दिये। बैठक में क्षेत्रीय प्रबंधक लीड बैंक कुलवीर सिंह पांगती, मुख्य प्रबंधक पंजाब नैशनल बैंक के.सी नौटियाल, जीएम डीसीबी सी.के कोमल, महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र अंजली रावत, जिला ग्रामो उद्योग अधिकारी डाॅ0 अल्का पांडे, आरबीआई से मीनाक्षी वर्मा, जिला पर्यटन अधिकारी जे.एस चैहान सहित संबंधित विभागों एवं बैंकों के अधिकारी एवं प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!