विरासत में लोग सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ-साथ कुल्फी और शिकंजी का ले रहे आनंद

Share Now

देहरादून। विरासत अपनी रजत जयंती संस्करण के तहत पदम भूषण परवीन सुल्ताना, गजल गायक तलत अजीज, वडाली ब्रदर्स, लांगा मांगनियार, कत्थक और बांसुरी वादन के साथ-साथ फोटोग्राफी प्रतियोगिता, आर्ट एंड क्राफ्ट वर्क शॉप जैसे कार्यक्रमों का आयोजन हर शाम कर रहा है जिसे देखने के लिए देहरादून के साथ-साथ अन्य जगहो से हजारों के संख्या में लोग डॉ बी आर अंबेडकर स्टेडियम, कौलागढ़ रोड पहुंच रहे हैं। देहरादून का मौसम गर्म होने की वजह से लोग हर शाम सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ-साथ कुल्फी और शिकंजी का लुफ्त उठा रहे हैं। इस बार विरासत में भारतीय व्यंजनों का बोलबाला है जिसमें मुख्य रुप से राजस्थानी व्यंजन, पंजाबी व्यंजन, उत्तराखंड के पहाड़ी पकवान, हैदराबाद की मशहूर बिरियानी के साथ-साथ वैलपुरी, शिकंजी कुल्फी, पानी पुरी एवं अन्य पकवान के स्टाल लगाए गए हैं।
दो साल के लॉकडाउन के बाद देहरादून में विरासत पहला ऐसा आयोजन है जहां लोगो को हर प्रकार की सुविधाएं मिल रही है। विरासत में लोग मनोरजंन के साथ-साथ भारतीय संस्कृति से जुडे़ हुए वस्तुओं कि खरीदारी कर भी कर रहे है एवं अपने परिवार के साथ शाम में दो पल सुकून के साथ बिता भी रहे है। भारतीय व्यंजनों में हैदराबादी बिरयानी एवं चिकन के कई प्रकार के व्यंजन युवाओं को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है वही हर शाम सैकड़ों की तादाद में लोग डिनर करने विरासत के प्रांगण में पहुंच रहे हैं। विरासत में आपको, बच्चे बूढ़े सब अपने हाथ में कुल्फी लेकर घूमते नजर आ जाएंगे। वहीं ’रंगीला पान पॉइंट’ के विक्रेता तरह-तरह के शेरो शायरी से लोगों को अपनी और आकर्षित करते दिख रहे हैं। पान खाने के शौक रखने वाले देहरादून के लोग हर शाम सैकड़ों की संख्या में विरासत पहुंचते हैं एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ-साथ मीठे पान का स्वाद ले रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!