जनता पहले देखे घोषणा पत्र फिर करे फैसला, जनता को सिर्फ आप पार्टी ही नजर आएगी विकल्पः राजेन्द्र पाल गौतम

Share Now

देहरादून। दिल्ली के समाज कल्याण मंत्री ने राजपुर विधानसभा क्षेत्र में पहुंचकर विशाल जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान सैकड़ों महिलाएं और युवा कार्यकर्ता मौजूद रहे। जिन्होंने सबसे कैबिनेट मंत्री राजेंद्र पाल गौतम का भव्य स्वागत किया। आप कार्यालय पहुंच कर राजेंद्र पाल गौतम ने प्रेस वार्ता की। उन्होंने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि उनके उत्तराखंड में आयोजित कार्यक्रमों में सबसे ज्यादा संख्या महिलाओं  की होती है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को प्रदेश निर्माण से लेकर परिवार निर्माण में अहम भागेदारी होती है।उन्होंने कहा,जो सपने उत्तराखंड की जनता ने  उत्तराखंड आंदोलन के वक्त देखे गए थे वो सपने आजतक पूरे नहीं हो पाए। आज भी प्रदेश 21 सालों बाद बदहाली के दौर से गुजर रहा है। उन्होंने कहा कि 21 सालो में कांग्रेस और बीजेपी की ही सरकारें उत्तराखंड में रहीं लेकिन दोनों ही दलों की सरकारों ने लोगों के सपनों को साकार नहीं किया।
उन्होनें कहा कि आज उत्तराखंड में सरकारी स्कूल बदहाल हो चुके हैं जबकि प्राईवेट स्कूलों की भरमार यहां पर ज्यादा है। जहां एक छात्र की फीस,वर्दी,आने जाने का खर्चा प्रतिमाह हजारों में होता है। उन्होंने कहा कि हर परिवार में अमूमन दो बच्चे हैं तो हर परिवार प्रतिमाह 15 से 20 हजार रुपए खर्चा बच्चों पर होता है।इसके अलावा  उन्होंने स्वास्थय सेवाओं पर सवाल उठाते हुए कहा कि उत्तराखंड के अधिकांश अस्पताल रेफरेल अस्पताल बनकर रह गए हैं। उन्होंने कहा कि पहाडों में इलाज की व्यवस्था नहीं है और देहरादून में तो प्राईवेट अस्पतालों का बोलबाला है। उन्होंने कहा कि कई अस्पतालो को सरकार पीपीपी मोड पर दे चुकी है और बचे अस्पतालों को भी  पीपीपी मोड में देने की तैयारी में सरकार है।उन्होंने कहा, जो सरकार लोगों को अच्छी शिक्षा,अच्छा रोजगार और अच्छा स्वास्थय ना दे पाए,जो सरकार प्राकृतिक संसाधनो का दोहन ठीक से ना कर पाए ऐसी सरकारों की जनता को आवश्यकता नहीं है।
उन्होंने आगे कहा कि ऐसी पार्टियां पैसों के दम पर वोट खरीदती हैं। पैसों के ही दम पर इनका मकसद सरकार बनाना होता है और जनता से सिर्फ झूठे वादे करना होता है। उन्होंने उत्तराखंड की जनता  से अपील करते हुए कहा कि जनता इन दोनों दलों के घोषणा पत्र निकाल कर देख ले कि इन दलों ने चुनावों से पहले अपने घोषणा पत्र  मे कौन से वादे किए और कौन से वादे वाकई में पूरे हुए। इसके साथ जनता आप पार्टी का घोषणा पत्र भी जरुर चौक करे कि हमने कौन से वादे किए और उनमें से कितने वादे पूरे किए। उन्होंने आगे कहा कि तुलनात्मक जनता को आप पार्टी का घोषणा पत्र और वादे ही पूरे नजर आएंगे इसलिए उत्तराखंड की जनता एक बार आप पार्टी को वोट देकर उनकी सरकार बनाए ।
उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार उत्तराखंड और हिमाचल से बिजली खरीद कर दिल्ली में लोगों को हर महीने 200 यूनिट मुफ्त देती है जबकि हमने मुफ्त बिजली का कभी वादा नहीं किया हमने दिल्ली की जनता को आधी दरो पर बिजली देने का वादा किया था। इसके साथ ही हमने 20 हजार लीटर प्रत्येक परिवार को पानी भी देने का काम किया। उन्होंने आगे कहा कि ऐसी कई घोषणाएं हैं जो हमने नहीं की लेकिन धरातल पर हमने उन वादों को पूरा करके दिखाया। उन्होंने आगे कहा कि हमने जो घोषणाएं उत्तराखंड के परिपेक्ष में की हैं उससे पहले हमारे एक्सपर्टस उस पर अध्ययन करते हैं। उन्होने कहा कि दिल्ली देश का पहला राज्य है जहां 24 प्रतिशत सरकार का बजट शिक्षा पर खर्च होता है। दिल्ली का शिक्षा मॉडल इतना बढिया है कि ढाई लाख से ज्यादा बच्चे इस साल प्राईवेट स्कूल छोडकर सरकारी स्कूलों में पढ रहे हैं।
उन्होंने कहा कि आज हर बच्चा कंपटीशन की तैयारी करना चाहता लेकिन बिना कोचिंग के कंपीटीशन में पास होना बहुत मुश्किल है। ऐसी समस्या के समाधन के लिए दिल्ली सरकार ने जय भीम मुख्यमंत्री विकास प्रतिभा योजना बनाई और उन सभी मेधावी छात्रों को इस योजना का लाभ दिया जो किसी भी वर्ग से क्यो ना हो लेकिन सरकार उनका कोचिंग का पूरा खर्चा वहन करती है। इसमें दिल्ली के 46 बडे कोचिंग संस्थान शामिल हैं। इसके साथ बच्चों को ढाई हजार रुपये स्टाईपेंड भी दिया जाता है। दिल्ली की जनता के सपने पूरे करने का संकल्प अरविंद जी ने लिया वो संकल्प पूरा किया गया । इतना ही नहीं दिल्ली के अस्पतालों में लोगों के हर टेस्ट और इलाज यहां मुफ्त है। इसके अलावा उन्होंने कहा,जो वादे हमने उत्तराखंड की जनता से किए हैं हम उन वादो को  हर हाल में पूरा करेंगे। साथ ही जो योजनांए दिल्ली के बच्चों के लिए चलाई जा रही हैं वैसी ही योजनाएं यहां के बच्चों के लिए भी सरकार बनते ही शुरु की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!