मानव तस्करी ,अनैतिक देह व्यापार एवं भिक्षावृत्ति पर रोक – उत्तराखण्ड राज्य महिला आयोग

Share Now

देहरादून – उत्तराखण्ड राज्य महिला आयोग की मा०अध्यक्ष श्रीमती कुसुम कण्डवाल की अध्यक्षता में उत्तराखण्ड राज्य में मानव तस्करी एवं अनैतिक देह व्यापार, भिक्षावृत्ति आदि विषय पर बैठक का आयोजन किया गया।
बैठक के दौरान उत्तराखंड राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती कुसुम कंडवाल ने कहा कि देह व्यापार पर नियंत्रण लगाने तथा इसमेे शामिल महिलाओं हेतु सृदृढ पुनर्वास, सुधार गृह की व्यवस्था कराने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने अवैध व्यापार में लिप्त महिलाओं की काउंसलिंग कर, उनके मानसिक संतुलन में सुधार हो एवं उन्हें विभिन्न प्रशिक्षण इत्यादि दिए जाने पर जोर दिया ताकि भविष्य मे होने वाली ऐसी घटनाओं के प्रति जागरूक और सचेत रहे हैं तथा स्वस्थ एवं सम्मानपूर्वक जीवन जी सकें। महिलाओं एवं बच्चियों के विरुद्ध लगातार बढ़ते अपराध, भिक्षावृत्ति पर रोकने तथा रिहैब्लीटेशन सैण्टर ऐसे बनने अनिवार्य हैं, जिनमें काउंसिलिंग के साथ ही पीडितो की आर्थिक मदद हो एवं उसके रोजगार के लिए भी सुविधा हो।
बैठक में सदस्य-सचिव, उत्तराखण्ड राज्य महिला आयोग श्रीमती कामिनी गुप्ता, पुलिस उपमहानिरीक्षक (अपराध एवं कानून व्यवस्था), सुश्री पी० रेणुका, डीन, उत्तरांचल यूनिवर्सिटी देहरादून राजेश बहुगुणा, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास अखिलेश मिश्रा, जिला प्रोबेशन अधिकारी मीना बिष्ट, मिशन रेस्क्यू ऑपरेशन, देहरादून राजेश चतुर्वेदी, इम्पावरिंग पिपुल सोसाएटी एन०जी०ओ० ज्ञानेन्द्र, आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!