तिब्बती समाज के लोग हमारे भाई मित्र और सहयोगीः काऊ

Share Now

देहरादून। तिब्बती समाज के लोग हमारे भाई, मित्र और सहयोगी हैं, उनकी समस्याओं का समाधान करना हमारा कर्तव्य है। यह बात विधायक रायपुर उमेश शर्मा काऊ ने सोमवार को देहरादून में आयोजित हुई भारत तिब्बत समन्वय संघ उत्तराखंड की प्रान्त स्तरीय बैठक में कही।
उन्होंने कहा कि रायपुर विधानसभा में निवास कर रहे तिब्बती समाज के लोगों की समस्याओं को हल करने के लिए वह हर संभव प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि तिब्बत भारत का ही हिस्सा है और हम तिब्बत को कभी भी चीन का हिस्सा नहीं मानते। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि तबब्बत को चीन से जल्द आजादी मिले।
उन्होंने अपने संबोधन में कैलाश मानसरोवर की मुक्ति के लिए भी मिलकर प्रयास करने की बात कही। महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुशीला बलूनी ने भारत तिब्बत समन्वय संघ द्वारा देशभर में किये जा रहे जनजागरण को लेकर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि इस मुहिम को राममंदिर आंदोलन की तर्ज पर चलाये जाने की जरूरत है। तिब्बती सरकार के प्रतिनिधि दुन्दुप ग्याल्पो ने तिब्बती समाज की समस्याओं से रायपुर विधायक उमेश शर्मा काऊ को अवगत कराया। उन्होंने कहा कि चीन द्वारा तिब्बत और वहां के लोगों पर अत्याचार का सिलसिला लगातार जारी है। भारत तिब्बत समन्वय संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रो प्रयाग दत्त जुयाल ने तिब्बत को लेकर पॉलिसी में बदलाव करने की बात कही। उन्होंने बैठक में रायपुर विधायक उमेश शर्मा काऊ और महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुशीला बलूनी के प्रान्त संरक्षक बनने की घोषणा की। प्रान्त उपाध्यक्ष कर्नल आमेश मन्हास ने भी तिब्बत के अनेक विषयों को बैठक में रखा। इस दौरान देहरादून के जिलाध्यक्ष गिरीश नेगी, कार्यक्रम का संचालन कर रहे प्रान्त महामंत्री मनोज गहतोड़ी, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य डॉ सूरज कुमार पार्चा, महिला विभाग की प्रान्त अध्यक्ष डॉ वंदना स्वामी,महामंत्री अंजली माहेश्वरी, दीपक मिश्रा, भारत तिब्बत समन्वय संघ के युवा विभाग के अध्यक्ष रजनीश नेगी,महामंत्री आशीष सेमवाल, युवा विभाग के प्रांत उपाध्यक्ष सार्थक भट्ट, तिब्बतन यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष तेनजिन जिंपा, तिब्बतन महिला एशोसिएशन की अध्यक्ष तेनजिन डक्की आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!