दुश्मनों से लोहा लेते हुए उत्तराखण्ड का लाल शहीद

Share Now

पौड़ी। पौड़ी जनपद अंतर्गत सतपुली के रहने वाले 23 वर्षीय मनदीप सिंह नेगी जम्मू कश्मीर के गुलमर्ग में दुश्मनों से लोहा लेते हुए शहीद हो गये हैं। मनदीप 11वीं गढ़वाल राइफल में तैनात थे। मनदीप के शहीद होने पर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत व उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने अपने सोशल मीडिया पेज के माध्यम से इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए उनके परिवार को इस दुख की घड़ी में सहनशक्ति देने की ईश्वर से प्रार्थना की है।
शहीद मनदीप सिंह नेगी का पार्थिव शरीर शनिवार को अपने पैतृक गांव सकनोली लाया जाएगा। ग्रामीणों की ओर से दी गई। जानकारी के अनुसार मनदीप अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था। मनदीप के माता-पिता घर पर रहते हैं। पिता कृषक के रूप में घर पर ही कार्य करते हैं। वहीं कुछ समय पूर्व मनदीप की सगाई उसी क्षेत्र के डविला गांव की लड़की से हुई थी और कुछ समय बाद दोनों का विवाह होना भी तय हुआ। पूर्व ब्लाक प्रमुख पोखडा सुरेंद्र सिंह रावत ने बताया कि मनदीप के शहीद होने पर पूरे क्षेत्र में दुख का माहौल है। मनदीप एक होनहार लड़का था। बचपन से ही वह सेना में जाने का जुनून लिए हुए था. मेहनत के बलबूते वह छोटी उम्र में सेना में भर्ती हो गया था। लेकिन अचानक ये सूचना प्राप्त होने के बाद दोनों ही परिवारों में मातम का माहौल छा गया है। शहीद मनदीप सिंह का पार्थिव शरीर शनिवार को उनके पैतृक गांव सकनोली, चैबट्टाखाल लाया जाएगा। गांव के पैतृक श्मशान घाट में पूरे सैन्य सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। मनदीप के शहीद होने पर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दुख व्यक्त किया है। उन्होंने उनके परिवार को इस दुख की घड़ी में शक्ति देने की प्रार्थना की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!