राजकीय इंटर कॉलेज चौनघाट में शिक्षकों की भारी कमी

Share Now

थराली। चमोली के थराली विधानसभा के नंदा नगर राजकीय इंटर कॉलेज चौनघाट में शिक्षकों की कमी के चलते नौनिहालों का भविष्य अंधकार में जा रहा है। स्थानीय ग्रामीणों एवं अभिभावकों ने नंदा नगर घाट में तहसील का घेराव कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और कहा कि सरकार ने पहाड़ों के लिए प्रवक्ताओं की नियुक्ति की है। लेकिन नंदा नगर घाट की अनदेखी की जा रही है। ग्रामीणों ने तहसील परिसर में ही अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया है।
राजकीय इंटर कॉलेज चौनघाट में लगभग 425 छात्र-छात्राएं हैं। लेकिन रिक्त पद होने के चलते यहां के छात्र छात्राओं के पठन पाठन पर व्यवधान उत्पन्न हो रहा है। एक और सरकार जहां स्कूलों का उच्चीकरण कर रही है। वहीं, उच्चीकरण करने के बाद विद्यालयों में शिक्षकों की कमी के चलते नौनिहालों के भविष्य पर संकट मंडराता नजर आ रहा है। लेकिन सरकार इस ओर ध्यान नहीं दे रही है।
नंदा नगर के स्थानीय लोगों ने कहा कि शिक्षा विभाग जल्द अगर विद्यालय में रिक्त पदों को नहीं भरेंगे तो एक बड़ा उग्र आंदोलन किया जाएगा। इसकी पूरी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। नोनिहालों के भविष्य के साथ हम खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं करेंगे। ग्रामीणों ने चेतावनी देते हुए कहा कि आने वाले दिनों ने ग्रामीण, अभिभावक और बच्चे देहरादून में शिक्षा मंत्री के आवास का घेराव करेंगे। ग्रामीणों ने बताया कि इंटर कॉलेज में शिक्षकों के 17 पद स्वीकृत हैं। लेकिन मात्र 3 शिक्षकों की तैनाती की गई है। इसमें में भी एक हिंदी एक संस्कृत और एक प्रिंसिपल हैं। हिंदी और संस्कृत के शिक्षक भी 10वीं कक्षा के बच्चों के लिए हैं। जबकि, 11वीं व 12वीं कक्षा के बच्चों के लिए एक भी शिक्षक नहीं है। इंटर कॉलेज में सांइस, आर्ट्स और कॉमर्स तीनों ही विषयों के पाठ्यक्रम हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!