चारधाम के कपाट खुलने पर पर्यटन मंत्री ने दी बधाई

Share Now

-सीमित लोगों की मौजूदगी में अभिजीत मुहूर्त पर खुले यमुनोत्री के कपाट

देहरादून। उत्तराखंड में विश्व प्रसिद्ध यमुनोत्री धाम के कपाट शुक्रवार को अक्षय तृतीया के पावन पर्व पर दोपहर 12रू15 बजे अभिजीत मुहूर्त में श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ के लिए खोल दिए गए हैं। इस पर पर्यटन मंत्री श्री सतपाल महाराज ने देश-दुनिया के तीर्थयात्रियों व श्रद्धालुओं को बधाई दी।
गंगोत्री धाम के कपाट शनिवार 15 मई, केदारनाथ धाम के कपाट 17 मई और बदरीनाथ धाम के कपाट 18 मई को श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोल दिए जाएंगे।
पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि वैदिक मंत्रोच्चारण और धार्मिक विधि-विधान के साथ यमुनोत्री के कपाट खोले गए। यह हम सबके लिए शुभ अवसर है। कोरोना के मुश्किल समय में श्रद्धालुओं की भावना का सम्मान करते हुए चारधाम के ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था की गई है। लोग घर पर बैठकर चारधाम के दर्शन कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि हर वर्ष कपाट खुलने के दौरान श्रद्धालुओं से भरा रहने वाला मंदिर प्रांगण इस बार कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के चलते खाली रहा। मंत्री ने बताया कि माननीय मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सभी रावल, पुजारीगण और मंदिरों से जुड़े स्थानीय हक हकूक धारी, पंडा पुरोहित, कर्मचारी व अधिकारी को कोरोना गाइड लाइन का पालन करने का आग्रह किया है। साथ ही सामाजिक दूरी और मास्क पहनने जैसी सभी जरूरी एहतियाती कदम भी उठाने की अपील की। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि चारधाम यात्रा लाखों लोगों के रोजगार और आजीविका का साधन हैं। जल्द चारधाम यात्रा को सुरक्षित ढंग से श्रद्धालुओं के लिए खोलने के लिए उत्तराखंड सरकार प्रयासरत है। इसके लिए वैकल्पिक व्यवस्था बनाने के लिए लगातार चारधाम यात्रा से जुड़े व्यापारियों, पंडा पुरोहितों व अधिकारियों से लगातार बात की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!