उत्तरकाशी : चिन्यलीसौड़ मे टीएचडीसी के 5 करोड़ गए पानी मे – बीआरओ के सर फोड़ा ठीकरा

Share Now

उत्तरकाशी जिले के चिन्यालीसौड मे टीएचडीसी द्वारा निर्मित 5 करोड़ की सुरक्षा दीवार मानसून की वर्षा मे ध्वस्त हो गयी है | टीएचडीसी के अधिकारियों ने इसका ठीकरा बीआरओ पर फोड़ते हुए कहा कि जिला सहकारी बैंक चिन्यालीसौड़  के पास बीआरओ का कलवर्ट बंद होने से निकासी का पूरा पानी गेबिन  वाल मे भर गया और दीवार धंस गयी है | गौरतलब है कि टिहरी झील के विस्तार से चिन्यालीसौड़ कस्बे मे हो रहे धँसाव को सुरक्षा देने के लिए वर्ष  2016 से 2018 तक 4 करोड़ 74 लाख की 64 मीटर लंबी और 50 मीटर ऊंची  सुरक्षा दीवार बनाई  गयी थी | सुरक्षा  दीवार धँसने से चिन्यालीसौड़ कस्बे के साथ वह आवासीय कॉलोनी को खतरा हो गया है |

चिन्यालीसौड़ नगर की सुरक्षा के लिए टीएचडीसी द्वारा बनाई गई 5 करोड़ की दीवार में बारिश का पानी घुस जाने से गेविन वाल धंस गयी है , जिसके बाद 4 करोड़ 74 लाख की निर्माणाधीन दीवार सहित चिन्यालीसौड़ बाजार का अस्तित्व भी  खतरे मैं पड़ गया है। 

गौरतलब है कि टिहरी बाँध की झील से हो रहे  भू धसाव से ऋषिकेश- गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग ,  चिन्यालीसौड़ बाजार सहित आसपास की दुकानों आवासीय मकानों को हो रहे खतरे को लेकर स्थानिय जनप्रतिनिधियों, प्रभावित लोगो ने  टीएचडीसी के अधिकारियों से मिलकर शीघ्र सुरक्षा कार्य करवाने की मांग की थी। जिस पर टिहरी बांध के अधिकारियों ने तत्काल सुरक्षा कार्य शुरू करवा दिया।

  मानसून सीजन में हो रही बारिश ने टिहरी हाइड्रो डेवलपमेंट कारपोरेशन द्वारा  बर्ष 2016 से  2018 तक निर्मित लगभग 5 करोड़ की गेविन दीवार मैं किए गए निर्माण कार्य की पोल खोल दी।

मानसून सीजन में हो रही  बारिश का पानी लगातार निर्मित गेविन वाल में घुस जाने से 64 मीटर लंबी और 50 मीटर ऊंची गैविन बाल एक बहुत बड़ा हिस्सा लगभग 4 मीटर गहराई में धस गया। जिससे जोगथ रोड़ पर 3 करोड़ 76 लाख की एसजीआरए,कंक्रीट दीवार सहित आसपास के आवासीय भवनों तथा बाजार को खतरा पैदा हो गया है।

जिला पंचायत सदस्य अरविंद लाल पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष शूरवीर सिंह रांगड़,सभासद सुनीता सेमवाल,व्यापार मंडल अध्यक्ष कृष्णा नौटियाल,भवन स्वामी कल्याणसिंह महंत,कमल पंवार, रमेश महंत,व्यापारी दिगपाल, जय नारायण, वीर,वीरेंद्रमिश्रा,रणवीर,संजय,व्रजेश,आदि ने बताया कि टीएचडीसी तत्काल ड्रेनेज निर्माण व्यवस्था के साथ इस पर सुरक्षा कार्य प्रारंभ कर दें जिससे भविष्य में होने वाले खतरे से बचा जा सके।

                                        टीएचडीसी के डिप्टी मैनेजर अतुल बहुगुणा ने बताया की  शक्ति पुरम कॉलोनी, सूलीठांग  सहित राष्ट्रीय राजमार्ग में बह रहे बरसाती पानी दीवार के अंदर घुस जाने पर क्षतिग्रस्त हो गई । उन्होंने बताया कि बीआरओ का  जिला सहकारी बैंक के पास कलवर्ट  (नारदाना) बंद होने तथा ड्रेनेज की व्यवस्था न होने पर सारा पानी दीवारों में घुस गया और निर्मित गेविन वाल के क्षतिग्रस्त होने के साथ निर्माणाधीन एस डी आर ए कंक्रीट वाल को भी खतरा पैदा हो गया है  जिससे टीएचडीसी को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि तत्काल उसकी सुरक्षा के लिए कार्य प्रारंभ कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!