उत्तरकाशी : एसपी ऑफिस के पास मिले लापता व्यक्ति के कपड़े – पुलिस की तीसरी आँख बंद ?

Share Now

उत्तरकाशी जिला अस्पताल से बीमार व्यक्ति रात के समय  लापता हो गया । एसपी ऑफिस के पास अस्पताल के कंबल और आधार कार्ड के साथ पर्स मिला है । परिजनो कि शिकायत के बाद पुलिस ने सीसी कैमरो को खंगालना सुरू कर दिया है पर हैरानी कि बात ये है कि पूरे शहर मे तीसरी आँख से नजर रखने का दावा करने वाली पुलिस के ज्यादातर सीसी कैमरे काम ही नहीं कर रहे है ।

टकनौर झाला निवासी वचन लाल के जिला अस्पताल से लापता होने के बाद पुलिस ऑफिस के पास अस्पताल के उनके कपड़े और पर्स बरामद हुआ है जिसमे नकद धनराशि के साथ आधार कार्ड भी बरामद हुआ । सूचना मिलने के बाद परिजनो ने कोतवाली उत्तरकाशी मे एफ़आईआर दर्ज कराई है । मंगल वार को पुलिस टीम ने अस्पताल के सीसी कैमरे मे रिकॉर्ड विडियो के आधार पर उनकी जाने की लोकेशन ट्रेस करने का प्रयास किया । परिजनो ने डीएम से मिलकर कलेक्ट्रेट मे ईवीएम वेयर के पास लगे सीसी कैमरे की रिकॉर्डिंग चेक करने की अनुमति मांगी । जिसमे लापता हुए व्यक्ति को इस स्थान से गुजरते हुए देखा जा सकता है ।

लापता वचन लाल के परिजन धर्मेंद्र सिंह और नवमी देवी ने बताया कि 14 मई को उन्हे अस्वस्थता कि शिकायत पर जिला  अस्पताल मे भर्ती कराया गया था और 15 मई कि रात को फिजीसीयन डॉ सूबेग सिंह ने उन्हे इंजेक्सन  दिया था मरीज के साथ तीमारदार के तौर पर गए उनके बेटे के अनुसार इंजेकसन के बाद उन्हे बेचैनी की शिकायत हुई और वे बाहर निकालने कि जिद करने लगे इस से पहले तीमारदार कुछ करते वे अस्पताल की दो तकिया और एक कंबल के साथ बाहर निकल गए। लापता व्यक्ति का सभी समान एसपी ऑफिस  के पास मिल गया है किन्तु बीमार व्यक्ति का अभी तक कोई पता  नहीं चल सका है । परिजनो ने पुलिस पर खोजबीन  मे सहयोग नहीं करने का आरोप लगाया है ।

हैरानी की बात ये है पिछले एसपी मनीकान्त मिश्रा के कार्यकाल मे पूरे शहर मे सीसी कैमरे लगाये गए थे और उस वक्त दावा क्या गया था कि शहर  के चप्पे चप्पे पर तीसरी आँख से निगाह रखी जा रही है इसके लिए पुलिस लाइन मे कंट्रोल रूम भी बनाया गया था , किन्तु कलेक्ट्रेट के बाद कोई भी कैमरा काम नहीं कर रहा है । यहाँ  तक कि एसपी ऑफिस के पास भी कोई सीसी कैमरा नहीं है या काम नहीं कर रहा था ऐसे मे पुलिस विभाग के खुद के दावे पर प्रश्न चिन्ह खड़ा हो गया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!