यमुनोत्री और केदारनाथ : धाम के पैदल ट्रैक पर चार श्रद्धालु मोक्ष गति को प्राप्त हुए

Share Now

 यमुनोत्री और केदारनाथ में हार्ट अटैक से चार यात्रियों की मौत,  62 पहुचा आंकड़ा

केदारनाथ पैदल मार्ग पर दो यात्रियों की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई है। कपाट खुलने के बाद से अभी तक 30 यात्रियों की मौत हो चुकी है। उधर, यमुनोत्री धाम में भी दो तीर्थयात्रियों की हार्ट अटैक से मौत हो गई। सोमवार को बावन राव (70), निवासी सखाराम साउले, अकोला महाराष्ट्र की केदारनाथ में दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। जबकि एक अन्य यात्री की भी मौत हुई है, जिसके बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है। 

चार धाम यात्रा में अब तक स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों और पहाड़ी से गिरने के कारण 62 यात्रियों की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से चार धाम के दर्शन के लिए जाने वाले यात्रियों की स्वास्थ्य जांच की जा रही है।

सीएमओ डा. बीके शुक्ला ने बताया कि सोमवार को पैदल मार्ग से घाम तक 1538 श्रद्धालुओं का स्वास्थ्य परीक्षण एवं उपचार किया गया। उधर, सोमवार सुबह 8 बजे जानकीचट्टी पार्किंग में गोकुल प्रसाद निवासी उज्जैन मध्य प्रदेश की तबीयत खराब हो गई, जिसे पीएचसी ले जाया गया। जहां चिकित्सकों ने गोकुल प्रसाद को मृत घोषित कर दिया। वहीं शाम पौने पांच बजे मुंबई निवासी दिलीप सेठ (63) की जानकीचट्टी में हार्ट अटैक से मौत हो गई।

चार धाम यात्रा में अब तक स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों और पहाड़ी से गिरने के कारण 62 यात्रियों की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से चार धाम के दर्शन के लिए जाने वाले यात्रियों की स्वास्थ्य जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!