गदरपुर में आप पार्टी की जीत पक्की, उत्तराखंड का शिक्षा मंत्री कभी नहीं जीतता दूसरा चुनावः गोपाल राय

Share Now

देहरादून। आम आदमी पार्टी के दिल्ली के कैबिनेट मंत्री गोपाल राय गदरपुर विधानसभा पहुंचे जहां पहुंचते ही उनका आप कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया। इसके बाद उन्होंने आप प्रत्याशी जरनैल सिंह काली के साथ मिलकर लोगों का अभिवादन किया और लोगों से नव परिवर्तन संवाद किया। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के अंदर चुनाव का बिगुल बज चुका है ,सभी पार्टियों के उम्मीदवारों का नामांकन हो चुका है और सिर्फ अब एक हफ्ता बचा है 1 हफ्ते के बाद प्रचार बंद हो जाएंगे और 14 फरवरी को उत्तराखंड के 5 साल के भविष्य का फैसला होगा। उन्होंने कहा कि 14 फरवरी का फैसला सिर्फ 1 दिन का फैसला नहीं होगा यह फैसला पूरे 5 साल के लिए होगा। 14 फरवरी को आपको फैसला लेना है कि गदरपुर के स्कूलों को जर्जर करना है या और बेहतर बनाना है। इस दिन यह तय होगा कि यहां अस्पताल बढ़िया होंगे या बेकार होंगे या फिर आम आदमी का सम्मान होगा या नहीं होगा।
उन्होंने कहा कि उत्तराखंड राज्य भी कभी उत्तर प्रदेश का हिस्सा हुआ करता था, लेकिन यहां पर विकास ना होने के चलते अलग राज्य की लड़ाई लड़ी गई और अलग राज्य का निर्माण हुआ लेकिन जो सपने यहां के लोगों ने नए राज्य के लिए देखे थे वह सपने आज तक पूरे नहीं हो पाए। यहां की जनता ने 10 साल कांग्रेस तो 11 साल बीजेपी को मौका दिया । लेकिन उन्होंने प्रदेश को लूटने का काम किया। उत्तराखंड में 21 सालों में नेता मंत्री और सरकारें  बदली लेकिन अगर कुछ नहीं बदला तो यहां के लोगों की तकदीर और तस्वीर नहीं बदले। लोग मजबूरी में कांग्रेस बीजेपी को वोट देते थे क्योंकि उनके पास कोई विकल्प मौजूद नहीं था। यहां कई दलों ने प्रयास किए लेकिन कोई भी विकल्प नहीं बन पाया। लेकिन अब आम आदमी पार्टी मैदान में आ चुकी है और जनता का सपना आम आदमी पार्टी पूरा करने जा रही हैं। उन्होंने कहा कि इस बार उत्तराखंड की लड़ाई में ए बी और सी तीनों दल मैदान में हैं। उन्होंने कहा कि गदरपुर विधानसभा में भी यह पार्टी सबसे आगे चल रही है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में जो शिक्षा मंत्री होता है वह दोबारा जीत का नहीं जीतता और जनता ने भी इस पर अपनी हामी भरी। यहां भाजपा बुरी तरह हार रही है और आम आदमी पार्टी जीत रही है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के प्रत्याशियों को भारी मतों से विजय बनाएं जो काम हमने दिल्ली में किए हैं वही काम हम उत्तराखंड में भी करके दिखाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!