तीन घंटे की मशक्कत के बाद हटाया गया सड़क से मलबा

Share Now

षिकेश। ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग पर साकनीधार के पास निर्माणाधीन ऑल वेदर सड़क का मलबा आने से हाईवे बाधित हो गया। मौके पर पहुंचे एनएच कर्मचारियों ने करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद मलबा हटाया। देर रात साढ़े आठ बजे हाईवे पर आवाजाही सुचारू हो सकी। गत दिवस भारी बारिश के बाद ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे के साकनीधार के निकट ऑल वेदेर रोड कटिंग का पथरीला मलबा दरक गया।
गनीमत रही कि उस दौरान वहां से कोई वाहन नहीं गुजर रहा था। राजमार्ग बाधित होने पर पुलिस ने मलेथा और देवप्रयाग-गजा सड़क मार्ग पर यातायात को डाइवर्ट कर दिया।
सूचना पर एनएच के अधिकारियों ने तीन जेसीबी मशीनें लगाकर मलबे को हटाने का काम शुरू करवाया। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद रात साढ़े आठ बजे हाईवे पर यातायात बहाल हो पाया। राजमार्ग बाधित होने से हाईवे के दोनों ओर वाहनों की लंबी लाइन लग गई। नियमित बस सेवाऐं भी हाईवे पर फंसी रहीं, जिसके चलते सवारियों को तीन घंटे कड़कती ठंड के बीच अंधेरे में अपना सफर तय करना पड़ा।
उत्तरकाशी जिले में भारी बारिश और बर्फबारी के कारण बंद गंगोत्री हाईवे छोटे वाहनों की आवाजाही के लिए खुल गया है। चार दिन बंद रहने के बाद गंगोत्री हाईवे को मंगलवार को गंगोत्री धाम तक यातायात के लिए खोल दिया गया। यमुनोत्री हाईवे राड़ी में बर्फबारी के कारण अभी भी बंद पड़ा है। वहीं ग्रामीण सड़कें बंद होने से ग्रामीण इलाकों में लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे जगह जगह जगह भारी बर्फबारी के कारण बंद हो गया था। चार दिन से गंगोत्री व यमुनोत्री हाईवे पर मशीनरी बर्फ हटाने में जुटी हुई है। गंगोत्री हाईवे को बहाल कर दिया गया है लेकिन यमुनोत्री हाईवे राड़ी टॉप में चार दिन बाद भी नहीं खुल सका है। गंगोत्री हाईवे सुख की टॉप से लेकर गंगोत्री तक करीब 40 किलोमीटर हिस्से पर हुई बर्फबारी के कारण पूरी तरह बाधित था। यमुनोत्री हाईवे राड़ी टॉप के मध्य 12 किलोमीटर हिस्से में बर्फबारी के कारण बंद है। इसके साथ ही जिले की लगभग आठ से ज्यादा सड़कें आवाजाही के लिए पूरी तरह से बंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!