झण्डा फहराने से पहले जान लीजिये इसके नियम – हर घर तिरंगा

Share Now

शुक्रवार को प्रेस वार्ता में जिलाधिकारी अभिषेक रुहेला ने मीडिया को बताया कि देश की आजादी के 75वें साल के जश्न को जिले का हर नागरिक अपने घरों में राष्ट्रीय ध्वज फहराकर मनाएगा। आजादी के उत्सव में देश की आन बान-शान का प्रतीक राष्ट्रीय ध्वज के सम्मान एवं मर्यादा का हम सबको अक्षरशः पालन करना है। जिलाधिकारी ने मीडिया से अपील करते हुए कहा कि राष्ट्रीय ध्वज संहिता के बारे में जनसामान्य के मध्य जन जागरूकता फैलाई जाय। ताकि जनपद के दूरस्थ गांव तक प्रत्येक नागरिक को राष्ट्रीय ध्वज संहिता का पता चल सकें।


जिलाधिकारी ने कहा कि जनता का कोई भी व्यक्ति,कोई भी गैर – सरकारी संगठन अथवा कोई भी शिक्षा संस्था राष्ट्रीय झंडे को सभी दिनों और अवसरों,औपचारिकताओं या अन्य अवसरों पर फहरा / प्रदर्शित कर सकता है । लेकिन राष्ट्रीय झंडे की मर्यादा रखने और उसे सम्मान प्रदान करने के लिए जरूरी बातों को ध्यान रखा जाना अति आवश्यक है। जिलाधिकारी ने कहा कि जब राष्ट्रीय झंडा फहराया जाए तो उसकी स्थिति सम्मानजनक और पृथक होनी चाहिए। फटा हुआ या मैला झंडा प्रदर्शित नहीं किया जाए । झंडे को किसी अन्य झंडे अथवा झंडों के साथ एक ही ध्वज – दंड से नहीं फहराया जाए। यदि झंडे का प्रदर्शन सभा मंच पर किया जाता है, तो उसे इस प्रकार फहराया जाना चाहिए कि जब वक्ता का मुंह श्रोताओं की और हो तो झंडा उनके दाहिनी ओर रहे अथवा झंडे को वक्ता के पीछे दीवार के साथ और उससे ऊपर लेटी हुई स्थिति में प्रदर्शित किया जाए । जब झंडे का प्रदर्शन किसी दीवार के सहारे लेटी हुई और समतल स्थिति में किया जाता है तो केसरिया भाग सबसे ऊपर रहना चाहिए और जब वह लम्बाई में फहराया जाए तो कैसरी भाग झंडे के हिसाब से दाई और होगा (अर्थात् झंडे को सामने से देखने वाले व्यक्ति के बाईं और ) जहां तक सम्भव हो झंडे का आकार इस संहिता के हिसाब से निर्धारित किए गए मानकों के अनुरूप होना चाहिए । किसी दूसरे झंडे या पताका को राष्ट्रीय झंडे से ऊंचा या उससे ऊपर या उसके बराबर में नहीं लगाया जाए।
जिलाधिकारी ने बताया कि भारत की ध्वज संहिता 2002 को 20 जुलाई 2022 के आदेश द्वारा संशोधित किया गया। जिसमें भारत के ध्वज संहिता के भाग- II के पैराग्राफ 2.2 के खंड ( xi ) में जहां झंडा खुले में प्रदर्शित किया जाता है या किसी व्यक्ति के घर पर प्रदर्शित किया जाता है,उसे दिन-रात फहराया जा सकता है। जिलाधिकारी ने हर घर तिरंगा अभियान में जनपदवासियों को बढ़चढ़कर प्रतिभाग कर सहयोग करने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!