सीडीएस विपिन रावत की तेरहवीं में दिल्ली एयरफोस ऑडिटोरियम पुहंचकर कर्नल कोठियाल ने दी श्रद्धांजलि

Share Now

देहरादून। आप पार्टी के सीएम उम्मीदवार कर्नल अजय कोठियाल ने दिल्ली के एयरफोर्स ऑडिटोरियम पहुंचकर देश के प्रथम सीडीएस जनरल विपिन रावत और उनकी पत्नि की तेरहवीं में पहुंचकर उनको अपने श्रद्धासुमन अर्पित किए। उन्होंने दिवंगत जनरल विपिन रावत और उनकी स्वर्गवासी पत्नि की आत्मा  शांति के लिए प्रार्थना भी की। एक जारी किए गए बयान में उन्होंने कहा, सीडीएस रावत  का अचानक चले जाना सबके लिए बडे ही दुर्भाग्य की बात है। ये पूरे देश,उत्तराखंड के साथ उनके लिए व्यक्तिगत तौर पर बड़ा नुकसान है। उन्होंने कहा वो हमेशा से उनके मेंटोर रहे और रहेंगे। उनके विचारों और सोच को आगे बढ़ाना उनका उद्देश्य रहेगा। उन्होंने बताया,सीडीएस रावत के साथ उनके  पारिवारिक रिश्ते थे । आज उनकी ही प्रेरणा का नजीता है कि सेना में आज 10 हजार से ज्यादा युवा भर्ती होकर देश की सेवा में समर्पित हैं। उन्होंने बताया कि सेना में रहने के दौरान जब वो केदारनाथ नवनिर्माण के कामों में लगे हुए थे तो उन्हें जनरल विपिन रावत ने यह सुझाव दिया था कि पहाड के युवाओं को सेना में भर्ती करने के लिए वो एक फाउंडेशन की स्थापना करें जिसके बाद उन्होंने यूथ फाउंडेशन की स्थापना की और जनरल रावत का सपना पूरा किया।
उन्होंने बताया कि जनरल रावत को सच्ची श्रद्वांजलि देते हुए अब इस फाउंडेशन के कैंपों का नाम जनरल विपिन रावत के नाम से जाना जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि यह पल पूरे देश के लिए एक भावकु पल है और उन्हें आज भी यकीन नहीं हो रहा है कि ऐसा जिंदादिल इंसान अब इस दुनिया में नहीं है। जिस शेर के आगे दुश्मन पाकिस्तान और चीन भी कांपता था। वो जनरल रावत ही थे कि उनके हौसले से दुश्मन हमेशा डरा सहमा रहता था। उन्होंने सेना को कई तरह से सुसज्जित करने का काम किया। आज उनका हम सब को छोडकर चले जाना अत्यंत पीडादायी है। उन्होंने कहा, मुझे उनके जाने से  गहरा आघात लगा है। उन्होंने सीडीएस रावत समेत उस दुर्घटना में मारे सभी सैनिकों और सैन्य अधिकारियों को श्रद्धांजलि देते हुए भगवान से उनकी शांति के लिए प्रार्थना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!