महंगाई व बढ़ती बेरोजगारी पर कांग्रेस ने आयोजित किए चौपाल कार्यक्रम

Share Now

देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश में कांग्रेस पार्टी द्वारा आसमान छूती महंगाई, बढ़ती बेरोजगारी एवं मोदी सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ पूरे देश में ‘‘मंहगाई पर चर्चा’’ कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। इसी कार्यक्रम के तहत उत्तराखण्ड प्रदेश में भी विभिन्न जनपदों में चौपाल कार्यक्रम आयोजित किये गये। इसके तहत आज देहरादून महानगर के डिस्पेंसरी रोड, राजीव गांधी कॉम्पलेक्स, पुरानी सब्जी मण्डी में कांग्रेसजनों ने प्रदेश उपाध्यक्ष प्रशासन/संगठन मथुरादत्त जोशी के नेतृत्व में चौपाल कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें आसमान छूती मंहगाई, बढती बेरोजगारी तथा भाजपा सरकार की जन विरोधी नीतियों पर आम जनता के बीच चर्चा की गई।
मंहगाई पर चर्चा करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष्ज्ञ प्रशासन एवं संगठन मथुरादत्त जोशी ने कहा कि वर्ष 2013-14 का वो दौर याद कीजिए जब मोदी जी देश के युवाओं और आम लोगों को कैसे-कैसे सपने दिखा रहे थे। अपने लगभग हर भाषण में वादा करते थे कि सत्ता में आते ही बेरोजगारी और मंहगाई को खत्म कर देंगे। चुनाव में भाजपा की रैलियों में ‘‘बहुत हुई मंहगाई की मार…….।’’ जैसे नारों की गूंज हर जगह सुनाई दे रही थी। आज उन्हें सत्ता में आए 8 साल से ज्यादा हो गये हैं, लेकिन मंहगाई और बेरोजगारी कम होने की बजाय आसमान छू रही है। मोदी सरकार की विफल आर्थिक नीतियों के कारण देश में मंहगाई रिकार्ड स्तर पर है। बीते 14 महीनों से मंहगाई दर दोहर अंकों में है। पेट्रोल, डीजी, सीएनजी, एवं रसोई गैस से लेकर अनाज, दालें, खाद्य तेल जैसी जरूरी चीजों की कीमतें भी आसमान छू रही हैं। मोदी सरकार द्वारा आटा, चावल, दही, पनीर, शहद जैसी रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं पर जी.एस.टी. लगाने से मंहगाई और बढ़ी है। इस सरकार की बेशर्मी देखिये, बच्चों के लिए पेंसिल और शार्पनर से लेकर हॉस्पिटल बैड एवं शमशान घाट के निर्माण पर भी जी.एस.टी. लगा दी है।
मथुरादत्त जोशी ने कहा कि यदि यू.पी.ए. शासन काल से तुलना करें तो आज हर चीज की कीमत बेहिसाब बढ़ी हुई है। कुछ चीजों के दाम दोगुने से भी अधिक हो गये हैं। 2014 के मुकाबले 2022 में रसोई गैस सिलेंडर के दाम 156 प्रतिशत, पेट्रोल के दाम 40 प्रतिशत, डीजल के दाम 75 प्रतिशत, सरसों तेल के दाम 122 प्रतिशत, आटे के दाम 81 प्रतिशत, दूध के दाम 71 प्रतिशत बढ़ चुके हैं। इसी तरह सब्जियों की कीमतों में 35 प्रतिशत तक वृद्धि हुई है। नमक 41 प्रतिशत मंहगा हुआ है। दालें 60-65 प्रतिशत तक मंहगी हो गई हैं। कोई भी ऐसी चीज नहीं है जिसकी कीमत इस सरकार में न बढ़ी हो। मोदी सरकार मंहगाई को तो नियंत्रित कर नहीं पा रही है उल्टा पहले से ही परेशान जनता पर टैक्स का बोझ डालकर अपना खजाना भरने में लगी है।
मथुरादत्त जोशी ने कहा कि हाल ही में लाई गई अग्निपथ योजना ने तो युवाओं के घाव पर नमक छिड़कने का काम किया है। जो युवा सेना में शामिल होकर गर्व से देश सेवा का सपना देखते थे उन्हें 4 वर्ष के लिए ठेके पर नौकरी करने को कहा जा रहा है। इसमें न पेंशन की गारंटी है और न ही सुरक्षित भविष्य की। ऐसे में युवा तनाव मुक्त होकर देश सेवा कैसे करेंगे? एक तरफ देश में करोड़ों युवा बेरोजगार बैठे हैं। दूसरी तरफ केन्द्र सरकार के कई विभागों में करीब 10 लाख पद खाली पड़े हैं। कुल मिलाकर देखें तो लोग बेरोजगारी और मंहगाई की दोहरी मार झेलने को मजबूर हैं। कांग्रेस पार्टी इस कठिन समय में जनता के साथ खडी है। हम संसद से लेकर सड़क तक लगातार मंहगाई और बेरोजगारी के खिलाफ आवाज बुलंद कर रहे हैं। उन्होंने दिनांक 28 अगस्त, 2022 को नई दिल्ली के रामलीला मैदान में ‘‘मंहगाई पर हल्ला बोल’’ महारैली में प्रतिभाग करने का भी आम लोगों से आह्रवान किया। चौपाल कार्यक्रम में पूर्व विधायक राजकुमार, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के राजनैतिक एवं मीडिया सलाहकार अमरजीत सिंह, शीशपाल बिष्ट, ललित भद्री, जाफर अब्बास, फैसल मोहम्मद, व्यापार प्रकोष्ठ के अध्यक्ष सुनील बांगा आदि सहित स्थानीय व्यापारी एवं आमजन उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!