बैंक कर्मचारी बनकर साइबर ठग ने सैन्यकर्मी को लगाई लाखों रुपये की चपत

Share Now

देहरादून। बैंक कर्मचारी बनकर साइबर ठग ने सैन्यकर्मी को लाखों रुपये की चपत लगा दी। पीड़ित ने बैंक, साइबर सेल और पुलिस को मामले की सूचना दी है। पुलिस का कहना है कि मामला साइबर सेल भेजा जाएगा। कोतवाली को तहरीर देकर अश्वनी कुमार ने बताया कि वह बीईजी में सैन्यकर्मी है। परिवार में शादी के लिए उन्हें जेवरात खरीदने थे। सुनार को ऑनलाइन रकम भेजी थी लेकिन सुनार ने बताया कि रकम नहीं मिली।
इसके बाद गूगल से बैंक का टोल फ्री नंबर सर्च किया। नंबर मिलने पर फोन पर बातचीत हुई। टोल फ्री नंबर पर बात में उसने बताया कि वह बैंक कर्मचारी है। शिकायत के लिए फोन पर एक लिंक भेजा और कुछ जानकारी मांगी। लिंक क्लिक करने पर खाते से 4.35 लाख रुपये निकल गए। रकम निकलने के बाद आरोपी को फोन किया तो उसने रकम लौटाने से साफ इनकार कर दिया। पीड़ित ने मामले की जानकारी बैंक कर्मचारियों को दी। बैंक की ओर से बताया गया कि कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया जाए। इसके बाद पीड़ित ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। उपनिरीक्षक बारू सिंह चैहान ने बताया कि तहरीर को साइबर सेल भेजा जाएगा। वहां से जांच रिपोर्ट मिलने के बाद मुकदमा दर्ज कर मामले में आगे कार्रवाई की जाएगी। शहर में पूर्व में साइबर ठगों ने कई लोगों को लाखों रुपये का चूना लगाया है। करीब दो साल पूर्व मथुरा और एक साल पूर्व दिल्ली के चार ठगों को पकड़ा गया था लेकिन फिर भी साइबर ठगी नहीं रूक पा रही है। रोजाना कोतवाली में साइबर ठगी के मामले आ रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!