नम आँखों से दी राइफलमैन हर्षपाल को विदाई । अक्टूबर में होनी थी हर्षपाल की शादी ।

Share Now


चार बहनों के इकलौते भाई थे हर्षपाल ।

सतपुली । तहसील चौबट्टाखाल के अन्तर्गत ग्राम भैंसोडा निवासी असम राइफल के 24 वर्षीय जवान हर्षपाल सिंह पुत्र बलवंत सिंह मणिपुर में तीन दिन पहले मौत हो गयी थी जिनकी मौत के कारणों का स्पष्ट पता नही चल पाया है ।

राइफलमैन हर्षपाल असम राइफल्स की मेडिकल टीम में प्रयोगशाला सहायक के पद पर तैनात थे। हर्षपाल चार बहनों के इकलौते भाई थे। हर्षपाल की शादी मई में तय की गई थी लेकिन लॉकडाउन की वजह से शादी को अक्टूबर में टाल दिया गया था। शुक्रवार दोपहर हर्षपाल की अपने माता-पिता से फोन पर बात भी हुई थी लेकिन कुदरत को कुछ और मंजूर था और शनिवार सुबह उनके शहादत की खबर उनके परिवार को मिली । शहादत की खबर सुनते ही उनकी माँ का रो रो कर बुरा हाल है ।
आज सुबह उनका पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव भैंसोडा पहुँचा पार्थिव शरीर के घर पहुँचते ही हर्षपाल की माँ व बहने रो रो कर बिलखने लगी गांव में गमगीन माहौल हो गया ।
शहीद राइफलमैन हर्षपाल को उनको पैतृक घाट में राजकीय सम्मान के साथ अश्रुपूर्ण श्रंद्धांजलि देकर अंतिम विदाई दी गयी ।
शहीद राइफलमैन हर्षपाल को गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत, कांग्रेस प्रदेश सचिव समाजसेवी कवीन्द्र इस्टवाल ने उनके घर जाकर परिवार को ढांढस बंधाया और पैतृक घाट जाकर उनको भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी ।
पर्यटन मंत्री व चौबट्टाखाल विधायक सतपाल महाराज ने शोकाकुल परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की ।
इस अवसर पर शशिधर बंदूनी, राजपाल रावत, पुष्कर जोशी, प्रशासन सहित क्षेत्रीय लोग मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!