आजादी का अमृत महोत्सव को मनाने को भाजपा की 7 सदस्यीय समिति का गठन

Share Now

देहरादून। भाजपा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हर घर तिरंगा अभियान के तहत आजादी के अमृत महोत्सव को मनाने के लिए प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार के संयोजक में सात सदस्यीय समिति गठन किया है। भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चैहान ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट के निर्देशानुसार सात सदस्यीय समिति का गठन किया गया है जिसमें प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार को संयोजक बनाया गया है।
चैहान ने बताया की हर घर तिरंगा अभियान के संदर्भ में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रसाद नड्डा ने पार्टी पदाधिकारियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अभियान को सफल बनाने के लिए बूथ स्तर तक की योजना बनाने को कहा था । इसी के तहत भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र भट्ट के निर्देशानुसार जिन सात लोगों की इस समिति में शामिल किया गया है उनमें प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार संयोजक हैं जबकि प्रदेश कार्य समिति सदस्य वीरेन्द्र बिष्ट, आदित्यराम कोठारी, युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष कुंदन लटवाल, पूर्व विधायक केदारनाथ आशा नौटियाल, तरूण बंसल तथा आईटी सेल के सह प्रभारी अजीत नेगी को सह संयोजक बनाया गया है। यह समिति पूरे प्रदेश में हर घर तिरंगा अभियान को चलाने के लिए जिला स्तर पर भी पाँच सदस्यीय एवं तीन सदस्यीय समिति का गठन करेगी। यह अभियान मंगलवार से ( 9 अगस्त )से 15 अगस्त तक चलाया जाएगा। समिति की ओर से 9 अगस्त से 11 अगस्त तक देश भक्ति भावना प्रचारित करने के लिए वातावरण बनाने के लिए तिरंगा यात्रा निकालना, प्रमुख स्थानों में होर्डिंग लगाने का काम करेगी। इसी प्रकार 13 अगस्त तक ‘रघुपति राघव राजाराम, भजन, वंदे मातरम’ पूर्ण गीत के साथ प्रभातफेरी निकाली जाएगी। 13 से 15 अगस्त तक 20 लाख से अधिक घरों द्में राष्ट्रीय ध्वज फहराने का आयोजन शामिल है। यह समिति सभी सरकारी भवनों, निवास, पुलिस चैकियों तथा सार्वजनिक भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के आयोजन के साथ-साथ आवासीय समिति, युवा संगठनों, साधु संतों के मठों तथा सामाजिक संस्थाओं के कार्यालयों पर ध्वज फहराया जाए इसके लिए सम्पर्क करेगी। प्रत्येक नागरिक सम्मानपूर्वक राष्ट्रीय ध्वज फहराएं, ऐसी योजना बनाने का प्रयास करने का आग्रह केन्द्र की ओर से किया गया है। प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र भट्ट की ओर से यह प्रयास किया गया है कि इन कार्यक्रमों के लिए बूथ स्तर तक प्रयास किए जाएं। साथ ही साथ जिला स्तर पर पांच-पांच सदस्यों, मंडल एवं बूथ स्तर पर तीन-तीन सदस्यों की समिति गठित की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!