महेंद्र भट्ट के विवादित बयान पर हमलावर हुए पूर्व सीएम हरीश रावत

Share Now

देहरादून। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट के विवादित बयान यानी जिस घर पर तिरंगा नहीं, उस पर देश विश्वास नहीं कर सकता पर कांग्रेस हमलावर हो गई है। कांग्रेस नेता गणेश गोदियाल के बाद अब हरीश रावत ने भी महेंद्र भट्ट के बयान पर पलटवार किया है। हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखकर तंज कसते हुए आरएसएस पर भी हमला बोला। साथ ही हरीश रावत ने महेंद्र भट्ट के बयान को लेकर कई सवाल भी खड़े किये हैं।
भाजपा के नये अध्यक्ष बहुत विनम्र व्यक्ति हैं, मगर उनका बयान बहुत दुख पहुंचा गया। किसी की देशभक्ति का पैमाना नापने वाली भाजपा कौन होती है? यदि तिरंगा झंडा घर पर फहराना ही राष्ट्रभक्ति कहलाती है तो फिर उनके निकटवर्ती तो कई ऐसे लोग रहे हैं, ऐसे संगठन रहे हैं जिनका हम भी आदर करते हैं, जिन्होंने तिरंगे को नहीं फहराया, वर्षों-वर्षों नहीं फहराया। शायद आज भी उन्हें इसमें संकोच है। उन्होंने लिखा देश के अंदर आज 42 करोड़ लोग गरीबी के रेखा के नीचे हैं। लगभग 50-55 करोड़ लोग ऐसे हैं जिनके लिए अपनी प्रत्येक दिन की रोटी जुटाने का सवाल, सबसे बड़ा है। इस संख्या में 37 करोड़ लोग तो भाजपा के शासनकाल में पिछले साढ़े सात वर्षों में गरीबी की रेखा के नीचे गये हैं। कहां से उन गरीबों के पास झंडा और डंडा खरीदने के लिए पैसा आएगा?
हरीश रावत से पहले गणेश गोदियाल ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट पर निशाना साधते हुए कहा कि हम सब देश प्रेमी लोग हैं और पहाड़ों में रहने वाला प्रत्येक व्यक्ति अपने देश से अगाध प्रेम करता है। अगर महेंद्र भट्ट को उनका वास्तविक पता चाहिए, जो जान बूझकर के अपने घरों पर तिरंगा नहीं लगा रहे हैं तो उनका सही पता नागपुर में स्थित आरएसएस मुख्यालय है। उन्हें वहां जाना चाहिए, जहां उन्हें ऐसे लोग मिलेंगे जो जानबूझकर देश के राष्ट्र ध्वज को अपने मकानों पर नहीं लगाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!