मैड ने जताया एयरपोर्ट विस्तार परियोजना पर विरोध

Share Now

देहरादून। देहरादून के शिक्षित छात्रों के संगठन मेकिंग अ डिफरेंस बाय बींग द  डिफरेंस (मैड) ने थानों क्षेत्र मे जन आंदोलन के माध्यम से प्रस्तावित एयरपोर्ट विस्तार परियोजना पर विरोध जताया। संस्था द्वारा साफ-सफाई व करोना की स्थिति को ध्यान में रखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए यह जन आंदोलन किया गया।
गौरतलब है कि, उत्तराखंड सरकार द्वारा प्रस्तावित जौली ग्रांट एयरपोर्ट विस्तार परियोजना के तहत थानों क्षेत्र के 10000 पेड़ों का कटान अनिवार्य हैं जिस पर आपत्ति जताते हुये यह विरोध प्रदर्शन निकाला गया।आंदोलन मे सम्मिलित संस्था के सदस्यों का कहना हैं की यह परियोजना पर्यावरण की दृष्टि से हानिकारक है, तथा वन्यजीवों के लिए बहुत बड़ा संकट भी है। हालांकि पर्यावरण एवं वन मंत्रालय, केंद्र सरकार द्वारा राज्य सरकार को इस परियोजना के लिए दूसरे विकल्प खोजने की हिदायत दी गई है,जो की बेहद सरहानीय कदम हैं। फिर भी जब तक राज्य सरकार द्वारा यह परियोजना पूर्ण रूप से निरस्त नहीं कर दी जाती तब तक संस्था थानों संरक्षण हेतु तत्पर रहेगी, तथा आगे भी ऐसे जन आंदोलन जारी रखेगी। आंदोलन मे सम्मिलित छात्रों नें लिखित पोस्टर और जन गीतो के माध्यम से अपना विरोध व्यक्त किया।

मैड ने जताया एयरपोर्ट विस्तार परियोजना पर विरोध

देहरादून,। देहरादून के शिक्षित छात्रों के संगठन मेकिंग अ डिफरेंस बाय बींग द  डिफरेंस (मैड) ने थानों क्षेत्र मे जन आंदोलन के माध्यम से प्रस्तावित एयरपोर्ट विस्तार परियोजना पर विरोध जताया। संस्था द्वारा साफ-सफाई व करोना की स्थिति को ध्यान में रखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए यह जन आंदोलन किया गया।
गौरतलब है कि, उत्तराखंड सरकार द्वारा प्रस्तावित जौली ग्रांट एयरपोर्ट विस्तार परियोजना के तहत थानों क्षेत्र के 10000 पेड़ों का कटान अनिवार्य हैं जिस पर आपत्ति जताते हुये यह विरोध प्रदर्शन निकाला गया।आंदोलन मे सम्मिलित संस्था के सदस्यों का कहना हैं की यह परियोजना पर्यावरण की दृष्टि से हानिकारक है, तथा वन्यजीवों के लिए बहुत बड़ा संकट भी है। हालांकि पर्यावरण एवं वन मंत्रालय, केंद्र सरकार द्वारा राज्य सरकार को इस परियोजना के लिए दूसरे विकल्प खोजने की हिदायत दी गई है,जो की बेहद सरहानीय कदम हैं। फिर भी जब तक राज्य सरकार द्वारा यह परियोजना पूर्ण रूप से निरस्त नहीं कर दी जाती तब तक संस्था थानों संरक्षण हेतु तत्पर रहेगी, तथा आगे भी ऐसे जन आंदोलन जारी रखेगी। आंदोलन मे सम्मिलित छात्रों नें लिखित पोस्टर और जन गीतो के माध्यम से अपना विरोध व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!