हर एक जनप्रतिनिधि को 75 घंटे जनता के बीच रहना होगा : कौशिक

Share Now

काशीपुर। भाजपा आगामी 15 जून से जनप्रतिनिधि जनता के बीच’ पखवाड़ा मनाने जा रही है। इस आशय की जानकारी आज भाजपा की प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने दी। उन्होंने कहा कि सभी जनप्रतिनिधि इन 15 दिनों में जनता के बीच रहकर कुछ समय बिताएंगे जिससे उनकी समस्याओं और जरूरतों को समझा जा सके। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि 15 जून से 30 जून तक चलने वाले इस अभियान में हर एक जनप्रतिनिधि को 75 घंटे जनता के बीच रहना होगा। यानी औसतन 5 घंटे रोज। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की सोच के अनुरूप सरकार वही करेगी जो जनता चाहती है। इससे जनप्रतिनिधियों को जनता के मन में किस विषय को लेकर क्या सोच है इसका पता भी सरकार को चल सकेगा। जिसके आधार पर सरकार योजनाएं बना सकेंगी।
उन्होंने चंपावत में मिली ऐतिहासिक जीत पर कहा कि अब जनता कांग्रेस को नकार चुकी है। यह जीत बताती है कि जनता अब कांग्रेस मुक्त राज्य चाहती है। उन्होंने चार धाम यात्रा में फैली अव्यवस्थाओं से जुड़े सवालों पर कहा कि कोरोना के चलते दो साल यात्रा बंद रहने के कारण इस साल रिकॉर्ड संख्या में श्रद्धालु चार धाम यात्रा पर आ रहे हैं जितने लोग पूरे सीजन में यात्रा पर आते थे उतने एक माह में चारों धामों में पहुंच चुके हैं। सरकार और प्रशासन द्वारा हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं कि यात्रियों को कोई परेशानी न हो लेकिन थोड़ा बहुत दिक्कत होना भी स्वाभाविक है।
गैरसैंण में सत्र ना कराने के सवाल पर भी उन्होंने कहा कि राज्य का अधिक प्रशासनिक अमला और सुरक्षाकर्मी चार धाम यात्रा में व्यस्त हैं जिसके कारण बजट सत्र गैरसैंण की बजाय अब देहरादून में ही कराने का फैसला लिया गया है अन्य कोई कारण नहीं है। यहां यह उल्लेखनीय है कि सरकार इससे पहले भी जनता के द्वार जैसे अभियान चलाने और जनता दरबार लगाने जैसे काम करती रही है लेकिन उनका कोई खास फायदा जनता को नहीं मिल सका है। देखना होगा कि कभी गांव को गोद लेने का अभियान चलाने और सरकार जनता के द्वार जैसे स्लोगन देने वाली सरकार और उसके जनप्रतिनिधि जनता के बीच जाकर कितना काम आते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!