जीओ टॉवर लगाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाला गिरफ्तार

Share Now

देहरादून। रिलायन्स जीओ टॉवर लगाने के नाम पर 14 लाख की ठगी करने वाले गिरोह के सरगना को एसटीएफ ने कोलकाता से गिरफ्तार कर लिया जबकि उसके दो साथियोें को नोटिस दिया गया। आज यहां एसटीएफ के एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि एक प्रार्थना पत्र साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन को प्राप्त हुआ जिसमें पीडित अतर सिंह पुत्र स्व० जटी सिंह निवासी विकास लोक कालोनी लेन नं० 1 रायपुर के साथ अज्ञात ठगों द्वारा शिकायतकर्ता को घर पर रिलायन्स जीओ का टॉवर लगाने की स्कीम बताकर लाभ कमाने का लालच देकर उससे 14 लाख रुपये की धनराशि धोखाधड़ी से विभिन्न बैक खातो में प्राप्त कर ली। साईबर थाने में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी। मुकदमें में आरोपियों के विरुद्ध कार्यवाही हेतु घटित टीम द्वारा घटना में प्रयुक्त मोबाईल नम्बर, तथा आरोपियोें द्वारा पीडित से प्राप्त धनराशि की जानकारी प्राप्त की गयी तो प्रकाश में आया कि आरोपियों द्वारा फोन के माध्यम से सम्पर्क कर रिलायन्स टॉवर लगाने के नाम पर लाभ कमाने का लालच देकर वादी मुकदमा से धोखाधडी की गयी।
उन्होंने बताया कि साइबर पुलिस टीम द्वारा अथक मेहनत एवं प्रयास से आरोपियों द्वारा पीडित से धोखाधडी से प्राप्त की गयी धनराशि जो भारतीय स्टेट बैंक, बैंक ऑफ बडोदा व बन्धन बैंक के खाते में प्राप्त की गयी थी के खाताधारक की जानकारी प्राप्त की गयी व उक्त खाते का खाताधारक के सम्बन्ध में साक्ष्य एकत्रित करते हुये मुकदमें में एक आरोपी मनीष कुमार दास पुत्र माधव कृष्ण दास वर्तमान पता रोहरा लेजेंड फ्लैट ४सी चौथी मंजिल गौरंगा नगर न्यू टाउन कोलकाता (पश्चिम बंगाल) स्थाई पता ग्राम तेलनपाली पोस्ट/थाना बनहर पाली जिला झारसुगुडा ओडिसा को पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार किया गया व अन्य आरोपी दूध कुमार हलदर पुत्र अमरेन्द्र हलदर निवासी ग्राम आटापारा पोस्ट धोपाहाट कृष्णपुर थाना मन्दिर बाजार जिला सुन्दरवन कोलकत्ता पश्चिम बंगाल व पूजा चक्रवर्ती पुत्री सजल चक्रवर्ती निवासी कृष्णापुर थाना न्यू टाउन कोलकत्ता पश्चिम बंगाव को घटना में संलिप्तता के आधार पर दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 41(क) का नोटिस तामील कराया गया है। जिनसे घटना में संलिप्तता के सम्बन्ध में पूछताछ की जानी शेष है। गिरफ्तार आरोपी एवं नोटिस दिए गए व्यक्तिओं के खिलाफ जल्द ही आरोप पत्र प्रेषित किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!