स्वतन्त्रता दिवस पर डीएवी महाविद्यालय में किया गया पौधारोपण

Share Now


 देहरादून। डीएवी महाविद्यालय, भारत विकास परिषद समर्पण, एवं असहाय जन कल्याण सेवा समिति देहरादून के संयुक्त तत्वावधान में स्वतन्त्रता दिवस की 74वीं वर्षगांठ के अवसर पर 150 पौधे डी ए वी महाविद्यालय परिसर में रोपे।
समर्पण शाखा के सचिव राजीव सक्सेना ने अतिथियों का परिचय करवा कर ,उन्हें तुलसी की माला पहनाकर सम्मानित किया।कार्यक्रम की आरम्भता अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया एवं वन्दे मातरम सुजलाम सुफलाम का गायन कर किया।असहाय जन कल्याण सेवा समिति की अध्यक्ष श्रीमती बलबीर कौर नौटियाल ने संस्था का उद्देश्य एवं कोरोना काल में संस्था द्वारा किये जा रहे कार्य मास्क वितरण सेनिटाइजर विवरण,वृक्षारोपण आदि की जानकारी देने के साथ ही भविष्य में संस्था द्वारा जरूरत मंद लोगों को विभिन्न प्रशिक्षणों के माध्यम से कौशल युक्त एवं आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य के बारे में भी जानकारी दी।राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित पर्यावरणविद जगदीश वावला ने कहा कि पौधे लगाकर उनका रखरखाव भी जरूरी है।प्रकृति के उपकार का कर्ज जो हमें हवा, पानी एवं अन्न प्रदान करती है पौधे लगाकर चुकाना है। भारत विकास परिषद के प्रान्तीय अध्यक्ष श्री चन्द्र गुप्त विक्रम ने कहा कि संस्था का उद्देश्य सम्पर्क, सहयोग, संस्कार एवं सेवा है। सम्पर्क से ही सेवा कर सकते हैं।वर्षा के पानी का सदुपयोग करना चाहिए।राज्य पाल पुरस्कार से सम्मानित मुख्य अतिथि डा अजय सक्सेना प्राचार्य डीएवी महाविद्यालय ने स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए कहा कि जल,वायु तभी मिलेगा जब हम वृक्ष लगायेंगे वृक्षारोपण जैसे कार्यक्रमों को करते रहना चाहिए। भारत विकास परिषद के अध्यक्ष नीलेश अग्रवाल ने सभी उपस्थित अतिथियों को धन्यवाद दिया। इस अवसर पर असहाय जन कल्याण सेवा समिति के संरक्षक डा प्रशांत सिंह, उपाध्यक्ष सेवा सिंह मठारू, कोषाध्यक्ष उर्मिला शर्मा, भारत विकास परिषद के संजय अग्रवाल, कमल लाल, जीके मित्तल, डा. हरी शंकर, मंच संचालक आर के पाठक, एनसीसी स्टूडेंट एवं डीएवी का स्टाफ उपस्थित था। कार्यक्रम का समापन राष्ट्र गान के साथ किया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!