जमीन की धोखाधड़ी में फरार चल रहे पूर्व मंत्री के बेटे को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Share Now

देहरादून। जमीन की धोखाधड़ी में फरार चल रहे सपा के पूर्व मंत्री के बेटे को पुलिस दिल्ली से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है। पुलिस आरोपी का यूपी में भी आपराधिक इतिहास खंगाल रही है। वहीं मामले में फरार चल रहे लेखपाल और एक अन्य की तलाश के लिए पुलिस संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है।
बुग्गावाला थाना क्षेत्र के गांव लालवाला मजबता निवासी जुल्फान ने पुलिस को तहरीर देकर बताया था कि ग्राम नौकराग्रंट में उनकी और भाई शाहनवाज की करीब 37 बीघा जमीन है। आरोप है कि उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में सपा के पूर्व वन मंत्री मोहम्मद असलम खान के बेटे अरशद खान निवासी लालवाला मजबता, रमेश पटवारी निवासी ज्वालापुर और श्याम लाला निवासी बादीवाला ने मिलकर उक्त जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार कराए थे। उनके और भाई के फर्जी हस्ताक्षर बनवाकर जिलाधिकारी हरिद्वार से अनुमति कराई थी। इसके बाद जमीन को अपनी बताकर मुदित कोहली पुत्र परनीत कोहली निवासी 31 श्रीराम रोड सिविल लाइन, दिल्ली को बेचकर 95 लाख रुपये हड़प लिए। मामले की सच्चाई का पता लगने पर मुदित कोहली ने भी डेढ़ महीने पहले बुग्गावाला थाने में तीनों के खिलाफ केस दर्ज कराया था। पुलिस ने तहरीर के आधार पर तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था। तभी से पुलिस पूर्व मंत्री के बेटे, लेखपाल और श्याम लाला की तलाश कर रही थी। इस बीच पुलिस को सूचना मिली थी कि पूर्व मंत्री का बेटा दिल्ली में शरण लिए हुए है। पुलिस ने बुधवार को महारानी बाग, नई दिल्ली में छापा मारकर आरोपी को दबोच लिया और बुग्गावाला थाने ले आई। एसओ पीडी भट्ट ने बताया कि आरोपी को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है। फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है।
पुलिस जांच में पता चला है कि पूर्व मंत्री का बेटा कई लोगों से जमीन का फर्जीवाड़ा कर करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी कर चुका है। उसके खिलाफ सहारनपुर में भी धोखाधड़ी के कई केस दर्ज हैं। आरोपी हरिद्वार में भी कई लोगों से करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी कर चुका है। हरिद्वार, दिल्ली और सहारनपुर में आरोपी का आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है। साथ ही पुलिस अधिकारियों के निर्देश पर पूर्व मंत्री समेत तीनों पर गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!