ऋषिकेश : झोपड़पट्टी के बच्चों को शिक्षित करने मे जुटे – अजय दास, फ्रीडम ग्रुप फाउंडेशन

Share Now

ऋषिकेश। मंजिल उन्हीं को मिलती है जिनके सपनों में जान होती है, पंखों से कुछ नहीं होता हौसलों से उड़ान होती है ये लाइन फ्रीडम ग्रुप फाउंडेशन ऋषिकेश सोसाइटी के संस्थापक अजय दास पर सटीक बैठती है। अजय दास एक युवा, जुझारू, कर्मठ, स्वाभिमानी व्यक्ति हैं जो कि मलिन बस्ती, झोपड़ी पट्टी में रहने वाले गरीब बच्चों को शिक्षित करने में उनकी शिक्षा के लिए आगे आए।


फ्रीडम ग्रुप फाउंडेशन सोसाइटी की स्थापना वर्ष 2017 चंद्रेश्वर रोड, मायाकुंड ऋषिकेश में हुई, जिसके संस्थापक अजय दास है।

अजय दास ने बताया की सोसाइटी को 5 वर्ष पूर्ण हो चुके हैं और गरीब मलिन बस्ती परिवारों के बच्चे जो कि अपने बच्चों को पढ़ाने में असमर्थ हैं। उनके बच्चों को इस सोसाइटी में शिक्षा दीक्षा के साथ-साथ खेलकूद, महान स्वतंत्रता सेनानी की जयंती के बारे में भी उल्लेखन किया जाता है।
वर्तमान में फ्रीडम ग्रुप ऋषिकेश में 50 बच्चे पठन-पाठन करते हैं।
सोसाइटी में कक्षा एक से आठवीं तक के बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा प्रदान कराई जाती है।
बच्चों को शिक्षा की सामग्री सुसाइड के द्वारा ही प्रदान की जाती है।
बच्चों के परिवार वालों को समय समय पर राशन वितरण का कार्यक्रम भी किया जाता है।
झोपड़पट्टी की महिलाओं को सोसाइटी के द्वारा समय-समय पर हाइजीन प्रोग्राम से भी जोड़ा जाता है, जिससे वे खुद भी आत्मनिर्भर होकर कार्य कर सकें।
सोसाइटी के संस्थापक अजय दास ने बताया जो हमारे ग्रुप से जुड़ना चाहता है वह 6395515553 पर संपर्क कर सकता है।
फ्रीडम ग्रुप सोसायटी बच्चों की शिक्षा दीक्षा के साथ-साथ गंगा को स्वच्छ, निर्मल रखने के लिए भी गंगा घाटों पर सफाई अभियान भी चलाया जाता है। ऐसे सराहनीय कार्य व पुनीत कार्य के लिए तीर्थ नगरी ऋषिकेश के लिए प्रेरणा स्रोत बनी हुई है अजय दास।
फ्रीडम ग्रुप के संस्थापक अजय दास का यह भी कहना है कि अगर सभी क्षेत्रों में झोपड़पट्टी के बच्चों को शिक्षित के लिए कार्यालय खुल जाए तो, भारत का हर बच्चा शिक्षा दीक्षा करने से वंचित नहीं रह सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!