तीन पूर्व मुख्यमंत्री समेत मुख्य सचिव को कारण बताओ नोटिस जारी – सीजेएम के माध्यम से होंगे नोटिस जारी

Share Now



स्थान -नैनीताल
सरोवर नगरी उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने पूर्व मुख्यमंत्री के आवासों का किराया और उससे जुड़े हुए दूसरे भत्ते भरने के आदेशों के बावजूद रुपया जमा नहीं करने पर दाखिल अवमानना याचिका में तीन मुख्यमंत्री समेत मुख्य सचिव को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। खंडपीठ ने चार सप्ताह में जवाब देने को कहा है ।


देहरादून की रुलेक संस्था ने तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों और मुख्य सचिव के खिलाफ अवमानना याचिका दायर की है । इससे पूर्व उच्च न्यायालय की खण्डपीठ ने सभी नामित पूर्व मुख्यमंत्रियों को आवासों का ब्याज समेत किराया भरने के आदेश दिए थे, लेकिन तय समय तक न तो किराया और न ही किसी भी प्रकार का कोई ब्याज जमा किया ।
उच्च न्यायालय ने पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ और भुवन चंद खंडूड़ी के अलावा मुख्य सचिव ओम प्रकाश को भी नोटिस जारी किया है। न्यायालय ने रजिस्ट्री कार्यालय को निर्देश दिए हैं कि वो देहरादुन मुख्य ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट के माध्यम से ही सभी पक्षकारो को नोटिस जारी करे।
मामले की सुनवाई चार सप्ताह बाद होनी तय हुई है।

कार्त्तिकेय हरि गुप्ता, अधिवक्ता याचिकाकर्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!