BREAKING NEWS

उत्तराखंड मे मुफ्त टीका करण

सोनू गुप्ता हत्याकांडः अवैध संबंधों के चलते उतारा था मौत के घाट

377

हल्द्वानी। वनभूलपुरा थाना क्षेत्र में बीती 13 जून को हुई सोनू गुप्ता की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। इस मामले में पुलिस ने सोनू को गिरफ्तार किया है। हत्या के पीछे की वजह अवैध संबंध बताए जा रहे हैं। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है। फिलहाल पुलिस पूरे मामले में सोनू गुप्ता की पत्नी की भूमिका की जांच कर रही है।
एसपी सिटी जगदीश चंद्र ने पूरे मामले का खुलासा करते हुए बताया कि उजाला नगर निवासी सोनू गुप्ता (37) की बीती 13 जून को वनभूलपुरा थाना क्षेत्र में बरेली रोड पर दानिश के बगीचे में लाश मिली थी। पुलिस ने मौत के कारणों का पता लगाया तो सामने आया कि सोनू गुप्ता की गला घोंटकर हत्या की गई थी। पुलिस ने इस मामले में सोमवार 14 जून को सोनू सैनी नाम के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था, जो सोनू गुप्ता की कैटरिंग का नौकर था। सोनू गुप्ता से अलग होकर सोनू सैनी ने अपना अलग कारोबार कर लिया था। नौकरी करते समय ही सोनू सैनी के सोनू गुप्ता की पत्नी से अवैध संबंध हो गए थे। सोनू सैनी के करीब 5 साल से सोनू गुप्ता की पत्नी से अवैध संबंध थे। इसकी जानकारी सोनू गुप्ता और उसके परिवार वालों को भी थी। इसको लेकर उनमें कई बार झगड़ा भी हुआ।
हत्या की रात सोनू सैनी, सोनू गुप्ता को बहला-फुसलाकर बरेली रोड स्थित दानिश के बगीचे में ले गया। वहां दोनों ने पहले शराब पी। इसके बाद दोनों में विवाद हो गया था। तभी सोनू सैनी ने अंगोछे से सोनू गुप्ता का गलाघोंट उसकी हत्या कर दी। आरोपी सोनू सैनी का कहना है कि अगर वो सोनू गुप्ता को नहीं मारता तो उसने उसे मारने की पूरी तैयारी कर रखी थी। एसपी सिटी ने बताया कि हत्या में प्रयोग किया गया अंगोछा भी बरामद कर लिया गया है। साथ ही आरोपी ने अपना जुर्म कुबूला है। पूरे मामले में सोनू गुप्ता की पत्नी की भूमिका कितनी संदिग्ध है, इसकी जांच की जा रही है। अगर पत्नी की हत्याकांड में भूमिका आती है, तो पत्नी को भी गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्रवाई की जाएगी। आरोपी सोनू सैनी वर्तमान समय में हल्द्वानी में रहता है। मूल रूप से वो उत्तर प्रदेश के सैफनी जिला रामपुर का रहने वाला है। सोनू सैनी, सोनू गुप्ता के दूर के रिश्ते में भी आता है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!