टिहरी : डोबरा -चांठी पुल नाम बदलते समय संस्कृति और संघर्ष को न भूले सरकार – किशोर उपाध्याय

Share Now

टिहरी

डोबरा -चांठी पुल पर आवागमन में किया जा रहा है विलंब पुल का नाम यथावत रखा जाए
कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने कहा है कि डोबरा चांठी पुल बनकर तैयार हो गया लेकिन अभी तक इस पर आवागमन शुरु नहीं किया गया सरकार बहाने बना कर इसको अभी बढ़ाना चाहती है उनो ने कहा कि पुल का नाम यथावत रहना चाहिए यदि पुल का नाम बदला जाता है तो इसके लिए उन्होंने कुछ नाम सुझाए हैं पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में किशोर उपाध्याय ने कहा कि जिन लोगों ने शुरु से ही इस पुल के लिए संघर्ष किया उसी की बदौलत आज यह बनकर तैयार हुआ है लेकिन अब जल्द इस पर आवागमन शुरू न कर सरकार इसको जानबूझकर आगे बढ़ाकर राजनीतिक लाभ लेना चाहती है जो गलत है किशोर उपाध्याय ने कहा पता चला कि पुल का नाम बदला जा रहा है जो सही नहीं है इसका नाम डोबरा चांठी ही रहने दिया जाना चाहिए यदि नाम बदला जाता है तो इसका नाम डोबरा चांठी भागीरथी सेतू, डोबरा चांठी मां गंगा सेतु, डोबरा चांठी नागराजा सेतू, डोबरा चांठी सेम नागराजा सेतु , डोबरा चांठी माधो सिंह भंडारी सेतू, डोबरा चांठी वीर गब्बर सिंह सेतु, डोबरा चांठी श्री देव सुमन सेतु, डोबरा चांठी कफ्फू चौहान सेतू, डोबरा चांठी गंगू रमोला सेतू , डोबरा चांठी गंगा गढ़ सेतू, डोबरा चांठी विशेशवर दत्त सकलानी सेतु.
नाम पर रखा जाए उन्होंने पुल निर्माण में सहयोग देने वालों का धन्यवाद दिया इस मौके पर कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट, जिला अध्यक्ष राकेश राणा, शांति प्रसाद भटट, विजय गुनसोला, देवेंद्र नौटियाल, दर्शनी रावत, ममता उनियाल, आदि मौजूद थे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!