सीएम धामी के लक्सर दौरे का विरोध करेंगे टायर फैक्ट्री के कर्मचारी

Share Now

लक्सर। कैवेंडिस टायर फैक्ट्री में कर्मचारियों व फैक्ट्री प्रबंधक के बीच गतिरोध जारी है। यहां पिछले 5 दिनों से भूख हड़ताल पर बैठे कर्मचारियों का अब तक समझौता नहीं हो पाया है। जिसे देखते हुए कर्मचारियों ने 10 अक्टूबर को मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाने की बात कही है।
लक्सर टायर फैक्ट्री प्रबंधन और कर्मचारी यूनियनों के बीच चल रहे विवाद को सुलझाने के लिए विधायक संजय गुप्ता ने एसडीएम के साथ दोनों पक्षों से वार्ता की, लेकिन दोनों पक्ष अपनी-अपनी बात पर अड़े रहे। इस पर विधायक और एसडीएम वापस लौट गए। उधर कर्मचारियों का अनशन शुक्रवार को पांचवें दिन भी जारी रहा। स्थानीय टायर फैक्ट्री प्रबंधन और छह कर्मचारी यूनियनों के बीच तीन वर्षीय एग्रीमेंट में वेतन बढ़ोत्तरी समेत कर्मचारियों की अन्य मांगों को लेकर गतिरोध बना हुआ है। कर्मचारी 23 सितंबर से फैक्ट्री के बाहर धरने पर बैठे हैं। लक्सर विधायक संजय गुप्ता एसडीएम वैभव गुप्ता और सीओ बीएस चौहान के साथ धरना स्थल पर पहुंचे और कर्मचारियों से उनकी मांगों की जानकारी ली। इसके बाद उन्होंने फैक्ट्री के अधिकारियों से वार्ता की। फैक्ट्री अधिकारियों ने कहा कि कर्मचारियों की हड़ताल के कारण फैक्ट्री को भारी नुकसान हो रहा है। कर्मचारी आंदोलन समाप्त कर कार्य पर वापस लौटें। इसके बाद ही उनकी मांगों पर विचार किया जाएगा। इसके बाद विधायक और अधिकारियों ने कर्मचारियों से वार्ता की, लेकिन कर्मचारियों ने फैक्ट्री प्रबंधन पर हठधर्मिता दिखाने का आरोप लगाते हुए मांगें पूरी होने तक आंदोलन समाप्त करने से इन्कार कर दिया। दोनों पक्षों में से किसी के भी नहीं झुकने और वार्ता के बावजूद मामला नहीं सुलझा. लक्सर तहसील व्यापार मंडल अध्यक्ष अजय वर्मा ने धरना स्थल पर पहुंचकर समर्थन दिया। साथ ही क्षेत्रीय विधायक संजय गुप्ता पर भड़कते हुए उन्होंने कर्मचारियों की मांग को लेकर विधायक से मुख्यमंत्री से वार्ता कर सुलझाने के लिए कहा। उन्होंने कहा श्रमिकों की जायज मांगे हैं, जिसको मान लेना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!